Wednesday, 9 September 2020

डीएम ने अस्पतालों को कोविड-19 से सम्बन्धित उपचार की क्षमता बढ़ाने को कहा

देहरादून। कोविड-19 संक्रमण के बढते प्रकरण को दृष्टिगत रखते हुए संक्रमण की रोकथाम एवं प्रभावी नियंत्रण हेतु जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव द्वारा मुख्य चिकित्साधिकारी एवं एम्स ऋषिकेश, सीएमआई, सिनर्जी, मैक्स आदि अस्पतालों के साथ वीडियो कान्फेसिंग के माध्यम से बैठक आयोजित करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने निजी अस्पतालों से कोरोना संक्रमण के उपचार से सम्बन्धित बैड, आसीयू, वेंटिलेटर और उपचार से सम्बन्धित जानकारी प्राप्त करते हुए सम्बन्धित अस्पतालों को कोविड-19 से सम्बन्धित उपचार की क्षमता बढाने को कहा। उन्होंने सभी सम्बन्धित निजी चिकित्सालयों को कोविड-19 से सम्बन्धित पैशेन्टस इत्यादि का विवरण दैनिक रूप से जिला सर्विलांस अधिकारी को साझा करने तथा फेसिलिटी एप्प में नियमित रूप से अद्यतन सूचनाएं अंकित करने के निर्देश दिये। उन्होंने एम्स ऋषिकेश को फेसिलिटी एप्प में आइसोलेट किये जाने वाले चिकित्सालय के कार्मिकों का विवरण भी नियमित रूप से अंकित करने को कहा।
जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग को सभी प्राइमरी कान्टेक्ट के लोगों की अनिवार्य रूप से सैम्पलिंग करने के निर्देश दिये और इसके लिए मोबाईल टीम का गठन करने कहा, साथ ही अपर जिलाधिकारी प्रशासन को प्राइमरी कान्टेक्ट के लोगों की ट्रेसिंग और सैम्पलिंग करने की निगरानी करने को निर्देशित किया। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को कोविड-19 से सम्बन्धित सभी डाटा को लगातार अद्यतन करने और किसी भी प्रकार की पुनरावृत्ति  अथवा विसंगति  में सुधार करने के निर्देश दिये तथा निजी अस्पतालों द्वारा कोविड-19 की उपचार क्षमता बढाने के लिए वेंटिलेटर्स तथा  अन्य सहायता हेतु की गई मांग की शीघ्रता से पूर्ति करने के निर्देश दिये। उन्होंने ऐसे प्राइमरी कान्टेक्ट वाले लोग जो कोविड-19 के सैम्पलिंग एवं उपचार के सम्बन्ध में उचित सहयोग नही कर रहे हैं तथा जिन्होंने अपना पता व मोबाईल नम्बर गलत दर्ज करवाया है के विरूद्ध महामारी अधिनियम के अन्तर्गत सख्त वैधानिक कार्यवाही करने के पुलिस विभाग को निर्देश दिये। सभी सम्बन्धित निजी अस्पतालों द्वारा नियमित रूप से जिला सर्विलांस अधिकारी से सूचनाओं का आदान-प्रदान करने, फेसिलिटेटर एप्प में नियमित सूचनाओं का संकलन करने तथा अपने अस्पतालों में दिये गये निर्देशों के अनुसार बैड, आईसीयू, वेंटिलेटर इत्यादि की सुविधाएं बढाने का जिलाधिकारी को आश्वासन दिया गया। जिलाधिकारी ने जनपद के सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि सभी अपने-अपने क्षेत्र में प्रत्येक दिन 1 घंटा सम्बन्धित क्षेत्र की आशा से कोविड-19 से सम्बन्धित संदिग्ध अथवा पैशेन्टस के सम्बन्ध में नियमित रूप से अपडेट लेते रहने के निर्देश दिये। उन्होंने अपर जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि अन्य राज्यों और जनपदों से आने वाले लोगों का बार्डर पर आरटीपीसीआर टेस्ट करवायें। साथ ही स्वास्थ्य विभाग से एन्टीजन टेस्ट की नवीनतम दरें प्राप्त होने के उपरान्त एन्टीजन टेस्ट करवाने के भी निर्देश दिये। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी नितिका खण्डेलवाल, अपर जिलाधिकारी बीर सिंह बुदियाल, अरविन्द पाण्डेय, जी.सी गुणवंत एवं वीडियाकान्फ्रेसिंग के माध्यम मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ अनुज डिमरी, एम्स चिकित्सालय ऋषिकेश सहित निजी चिकित्सालय यथा सीएमआई, मैक्स, सिनर्जी, के चिकित्साधिकारी उपस्थित थे।


Featured Post

मन की बात में पीएम ने हैंडलूम एवं अन्य स्थानीय उत्पादों की खरीद पर दिया बल

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम को सुना। उन्होंने कहा कि मन की बात कार्यक्रम ...