बस खरीद मामले की हो सीबीआई जांचः राजकुमार


 

देहरादून। उत्तराखण्ड परिवहन निगम और निगम के कर्मचारियों की समस्याओं को लेकर कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य सचिव से मुलाकात कर उन्हे एक ज्ञापन सौंपा और समस्याओं के समाधान की मांग की। पूर्व विधायक राजकुमार के नेतृत्व में इस प्रतिनिधिमंडल द्वारा जो ज्ञापन मुख्य सचिव को सौंपा गया है उसमें कहा गया है कि निगम द्वारा जो 150 बसें खरीदी गयी थी उनमें खराबी आने और बदले जाने के मामले की सीबीआई से जांच करायी जानी चाहिए।

उनका कहना है कि गाड़ी खरीदने से पूर्व निगम के अधिकारियों की देख रेख में इन बसोें को तैयार कराने की बात कही गयी थी जिसके लिए निगम के अधिकारी दो माह गोवा में रहे। फिर भी खराब बसें कैसे खरीदी गयी यह एक गम्भीर मामला है। उन्हांेने अपने ज्ञापन में हरिद्वार रोड निगम की कार्यशाला के स्थानान्तरण पर भी सवाल उठाते हुए कहा गया है कि यह कार्यशाला निगम की जमीन पर बनी है। सरकार अगर इसे अधिगृहित कर रही है तो वह निगम की कार्यशाला बना कर दे लेकिन सरकार बिना कार्यशाला बनाकर दिये ही निगम बेदखल करने पर उतारू है। उनका कहना है कि सरकार निगम को भवन का मुआवजा दे। उनका कहना है कि निगम की हालत पहले से ही खराब है। कर्मचारियों को वेतन नहीं मिल पा रहा है और वह इसे लेकर आंदोलन कर रहे है। उन्होने निगम व उसके कर्मचारियों की समस्याओं के तत्काल समाधान की मांग की है। प्रतिनिधि मडंल में महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, पार्षद अर्जुन सोनकर, मनमोहन शर्मा, नागेश रतूड़ी, सौरव सचदेवा आदि लोग शामिल थे।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

शिक्षा अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने को एसएसपी को भेजा पत्र, DG शिक्षा से की विभागीय कार्रवाई की मांग