एमवे ने अपनी न्यूट्रीलाइट ट्रेडिशनल हर्ब्स रेंज को मजबूत किया

देहरादून। देश की अग्रणीय डायरेक्ट सेलिंग एफएमसीजी कंपनियों में से एक एमवे इंडिया ने आज न्यूट्रीलाइट मधुनाशिनी, शुंठी एवं त्वक और न्यूट्रीलाइट वसका, मुलेठी एवं सुरस के लॉन्च के साथ अपनी लोकप्रिय न्यूट्रीलाइट ट्रेडिशनल हर्ब्स रेंज को और व्यापक बनाया। नए उत्पाद नवप्रवर्तनों को आज एक कार्यक्रम में जाने-माने बॉलीवुड अभिनेता और फिल्म निर्माता फरहान अख्तर द्वारा लॉन्च किया गया। अपनी शारीरिक फिटनेस और युवा अपील के लिए जाने जाने वाले फरहान अख्तर न्यूट्रीलाइट के ब्रांड एंबेसडर हैं, जो सप्लीमेंटेशन के प्रति संयंत्र-आधारित दृष्टिकोण में 80 से अधिक वर्षों की मजबूत विरासत के साथ दुनिया में विटामिंस और डाइटरी सप्लीमेंट्स का नंबर 1 ब्रांड है। 

लॉन्च की घोषणा करते हुए, एमवे इंडिया के सीईओ अंशु बुधराजा ने कहा, ष्एमवे में हम दृढ़ता से मानते हैं कि फूड सप्लीमेंटेशन के साथ स्मार्ट हेल्थकेयर मानव जीवन को अद्वितीय मूल्य प्रदान करती है। न्यूट्रीलाइट ने खुद को विश्व स्तर पर विटामिन और डाइटरी सप्लीमेंट के बाजार में नेतृत्वकर्ता के रूप में स्थापित किया है। एमवे इंडिया के लिए एक मुख्य व्यवसाय की श्रेणी के तौर पर न्यूट्रीलाइट कंपनी के व्यवसाय राजस्व में 50ः से अधिक का योगदान देता है, जो कि 1,000 करोड़ रुपए से भी अधिक बैठता है। अपने सफल और निरंतर विकासोन्मुख ग्राफ के साथ-साथ श्रेणी की क्षमता सहित हम न्यूट्रिशन कैटेगरी को प्रासंगिक नवप्रवर्तनों के माध्यम से 2025 तक दुगना करने का लक्ष्य रखते हैं। न्यूट्रीलाइट ट्रेडिशनल हर्ब्स (एनटीएच) रेंज एक ऐसीनई खोज है, जिसने अपने लॉन्च के बाद से अभूतपूर्व सफलता हासिल की है, और हम पोर्टफोलियो में संबंधित उत्पादों को बढ़ाकर इसे और मजबूत कर रहे हैं। लॉन्च कार्यक्रम में बोलते हुए बॉलीवुड अभिनेता और न्यूट्रीलाइट के ब्रांड एंबेसडर फरहान अख्तर ने कहा, न्यूट्रीलाइट एक प्रतिष्ठित ब्रांड है और डाइटरी सप्लीमेंट्स के प्रति अपने संयंत्र-आधारित दृष्टिकोण के लिए इसे विश्व स्तर पर मान्यता हासिल है।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

शिक्षा अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने को एसएसपी को भेजा पत्र, DG शिक्षा से की विभागीय कार्रवाई की मांग