कृषि विभाग के कार्यों की समीक्षा की 

देहरादून। जिलाधिकारी सी रविशंकर की अध्यक्षता में कैम्प कार्यालय में कृषि विभाग के कार्यों की विभागीय समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। समीक्षा बैठक में कृषि विभाग द्वारा जिला योजना व राज्य सेक्टर के अन्तर्गत आवन्टित बजट तथा केन्द्रपोषित योजनाओं के कार्यों की वर्तमान प्रगति से अवगत कराया गया। मुख्य कृर्षि अधिकारी विकास देवराड़ी ने केन्द्रपोषित योजनाओं के अन्तर्गत राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत् धान फसल उत्पादन और जैविक कृषि कार्यक्रम, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन, ् मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरण, वर्षा आधारित क्षेत्र विकास कार्यक्रम, बीमा ग्राम योजना, कृर्षि प्रचार एवं प्रौद्योगिकी अभिकरण, प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना और प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजनाओं की वर्तमान प्रगति से जिलाधिकारी को अवगत कराया।

जिलाधिकारी ने मुख्य कृषि अधिकारी को केन्द्रीय-राज्य और विभागीय सभी तरह की योजनाओं और कार्यक्रमों के बेहतर इम्पलिमेन्टेशन करने के लिए विस्तृत होमवर्क करते हुए सटीक कार्ययोजना बनाने और विभिन्न क्षेत्रीय कार्मिकों को विभिन्न योजनाओं की प्रगति बढाने हेतु टारगेट देकर उसके पारदर्शी क्रियान्वयन हेतु सशक्त माॅनिटिरिंग, फील्ड के फिडबैक इत्यादि के आधार पर बेहतर आउटपुट प्राप्त करने के निर्देश दिये। उन्होंने ग्राउण्ड स्तर पर वास्तविक किसान और लाभार्थी की सही पहचान करते हुए उस तक अपनी सुगम पंहुच बनाने-उस तक विभिन्न जानकारियों को दैनिक रूप से पंहुचाने के लिए 'कर्नाटक राज्य' की तरह बेहतर मैकेनिज्म बनाने के निर्देश दिये। साथ ही रोस्टरवार विभिन्न क्षेत्रों में विभिन्न कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करने के निर्देश दिये ताकि किसी भी योजना में कोई डूप्लीकेसी ना होने पाये। उन्होंने किसानों की जागरूकता हेतु एक निर्धारित साइज का आकर्षक बोर्ड जिस पर किसानों के कल्याण की महत्वपूर्ण योजनाओं, उचित मार्गदर्शन  हेतु अधिकारियों के दूरभाष न0 इत्यादि स्पष्ट रूप से अंकित हो और यह बोर्ड विकासखण्ड स्तर, न्याय पंचायत स्तर तथा ग्राम पंचायत स्तर पर अनिवार्य लगाने के साथ ही अन्य महत्वपूर्ण  सार्वजनिक स्थानों पर चस्पा करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने भूमि संरक्षण कार्य को जलशक्ति अभियान से कंपाइल करते हुए असींचित और बंजर क्षेत्रों में सिंचाई से सम्बन्धित योजनाओं को प्राथमिकता आधारित पूरा करने, मृदा हेल्थ कार्ड सभी क्षेत्रों के सैम्पल के अनुसार जारी करने और किसानों को उस क्षेत्र में उसी तरह की फसल उत्पादन की जानकारी देने और कृषि यन्त्र, खाद-बिज किसानों को पर्याप्त और समय पर मिलता रहे इस बात को सुनिश्चित करेन को निर्देशित किया

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

शिक्षा अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने को एसएसपी को भेजा पत्र, DG शिक्षा से की विभागीय कार्रवाई की मांग