महासू देवता मंदिर में रात्रि जागरण से दूर हो जाते हैं कष्ट

देहरादून। पछवादून के जौनसार बावर के सिद्ध पीठ महासू देवता मंदिर में भक्तों द्वारा रात्रि जागरण किया गया। वैसे तो पूरे साल इस मंदिर में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है, लेकिन पूस की रात में आयोजित होने वाले इस जागरण के लिए काफी संख्या में श्रद्धालु महासू देवता मंदिर पहुंचते हैं। भक्तों का मानना है की इस जागरण मात्र ईष्ट देव उनके सारे कष्ट हर लेते हैं। श्रद्धालुओं का कहना है कि रात्रि जागरण में सच्ची आस्था के साथ पूजा-अर्चना करने से सभी कष्ट दूर हो जाते हैं। जानकारों का कहना है कि मंदिर में पूस के महीने रात्रि जागरण से भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। सर्द रात में भक्त पूरी आस्था और विश्वास के साथ मंदिर में रात्रि जागरण करते हैं। वहीं, भक्तों का कहना है कि महासू देवता संकटमोचक और न्याय प्रिय देवता है। रात्रि जागरण के बाद जब भक्त सुबह देवता के दर्शन करते हैं तो उनके चेहरे खुशी से चमक उठते हैं, लगता है महासू देवता ने श्रद्धालुओं के सभी संकट हर लिए हो. मंदिर के पुजारी राय दत्त जोशी बताते हैं कि पूस महीने की सर्द रात्रि में जो श्रद्धालु हनोल महासू देवता मंदिर में सच्ची आस्था और भक्ति के साथ पूजा-अर्चना करते हैं। उनके सभी कष्ट दूर हो जाते हैं।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर