राज्य खाद्य आयोग के अध्यक्ष ने मीड-डे मील की गुणवत्ता को परखा 


 

अल्मोड़ा। अध्यक्ष राज्य खाद्य आयोग उत्तराखण्ड भूपेन्द्र सिंह रावत ने आज सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत खाद्य विभाग द्वारा वितरित किये जाने वाले खाद्यान्न वाले अनेक स्थानों का भ्रमण किया। उन्होंने सर्वप्रथम पंचधारा स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया और दिये जाने वाले मीड-डे मील की गुणवत्ता को देखा। इस दौरान उन्होंने संतोष व्यक्त करते हुए अनेक जानकारी प्राप्त की। उन्होंने इस दौरान स्टाॅक रजिस्ट्रर, उपस्थिति पंजिका व समय-समय पर आयोजित होने वाले विशेष भोज की जानकारी प्राप्त की। 

उन्हे बताया गया कि विद्यालय में कुल 40 छात्र-छात्रायें अध्ययनरत है। उन्होंने विद्यालय में उपलब्ध संसाधनों को देखकर जिला प्रशासन की प्रशंसा की। इसके बाद आॅगनबाड़ी केन्द्र बद्रेश्वर जाकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया उन्हें बताया गया कि आॅगनबाड़ी केन्द्र में कुल 08 बच्चे पंजीकृत है जिनमें 05 बालिकायें व 03 बालक है। इस दौरान उन्होंन टेक होम राशन के अन्तर्गत दिये जाने वाले खाद्यान्न के बारे में जानकारी प्राप्त की। उन्हें बताया गया कि टेक होम राशन में गर्भवती महिलाओं को दलिया व किशमिश दिया जाता है। इस दौरान उन्होंने समय-समय पर होने वाले टीकाकरण की भी जानकारी प्राप्त की।

अन्त में खाद्य आयोग के अध्यक्ष ने विकास भवन परिसर में स्थित बाल विकास कार्यालय का निरीक्षण किया। उन्होंने वहा पर अनेक योजनाओं से सम्बन्धित जानकारिया प्राप्त की साथ ही टेक होम राशन से सम्बन्धित स्टाॅक रजिस्ट्रर व अन्य दस्तावेजों का निरीक्षण किया। इससे पूर्व उन्होंने कलैक्ट्रेट में आयोजित जन सुनवाई के दौरान प्राप्त शिकायत जो प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना से सम्बन्धित थी जिसमें लाभार्थी को योजना का लाभ मिल पाया जिस पर उन्होंने जिला कार्यक्रम अधिकारी को लाभार्थी को योजना से लाभान्वित करने के निर्देश दिये। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि जो भी पत्र निदेशालय स्तर पर प्रेषित किये जाते है उसकी एक प्रति आयोग को भी भेजना सुनिश्चित करेंगे। ताकि राज्य स्तरीय समीक्षा बैठक दौरान जनपद की समस्या को रखा जा सके। इस दौरान उन्होनंे अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये। उन्होंने इस बात पर गहरी नाराजगी व्यक्त की, कि जन सुनवाई का व्यापक प्रचार-प्रसार नहीं किया गया जिस कारण लोग अपनी समस्या को लेकर नहीं आ पाये। उन्होंने भविष्य में इन तरह के कार्यक्रमों का प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिये ताकि आम जनमानस इससे लाभान्वित हो सके। इस अवसर पर उनके मीडिया सलाहकार उमेद सिहं राणा, शिक्षाधिकारी माध्यमिक एच0बी0चंद, खण्ड विकास अधिकारी हवालबाग पंकज काण्डपाल, पूर्ति निरीक्षक, जिला पूर्ति विभाग के पूर्ति निरीक्षक एन0डी0 जोशी, जिला समन्यक मीड-डे मील जया बिष्ट, विद्या कर्नाटक, विजय चैहान आदि उपस्थित थे।  

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

शिक्षा अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने को एसएसपी को भेजा पत्र, DG शिक्षा से की विभागीय कार्रवाई की मांग