बर्फ में फंसे सात छात्रों में से एक की मौत

देहरादून। बड़कोट में बर्फबारी के कारण रास्ते बंद हो जाने के बाद भी उत्तरकाशी जा रहे जो छात्र राडी घाटी में फंस गये थे, उन्हंे भले ही बीती रात एसडीआरएफ की टीम द्वारा रेस्क्यू कर लिया गया हो लेकिन इनमें से एक छात्र अनुज सेमवाल की सर्दी के कारण मौत हो गयी है। बड़कोट आईटीआई में पढ़ने वाले इन सात छात्रों द्वारा गत शाम स्कूल के प्राचार्य को फोन पर अपने साथी की तबियत बिगड़ने और बर्फ में फंस जाने की सूचना दी गयी थी। जिसके बाद स्थानीय पुलिस प्रशासन और एसडीआरएफ की टीमों द्वारा इनके रेस्क्यू का काम शुरू कर दिया गया था। जहां यह छात्र फंसे हुए थे वहां राडी घाटी में ओरछा बैंड से सिल्क्वारा बैंड तथा 15-20 किलोमीटर तक सड़क पर दो से तीन फीट तक बर्फ पड़ी हुई थी।

अनुज के साथी छात्रों का कहना है कि एक जगह बर्फ में पैर फिसलने के कारण अनुज के जूते बर्फ के अन्दर ही रह गये जिसके कारण उसे बर्फ पर नंगे पैर ही चलना पड़ रहा था। सर्दी के कारण उसे दिक्कत हो रही थी तथा उसकी हिम्मत भी जवाब देने लगी थी। उसका रक्त संचार भी प्रभावित होने लगा था जिसके बाद उन्हांेने मदद के लिए प्राचार्य को सम्पर्क किया। इन सभी छात्रों जिनमें अनुज सेमवाल, राजन, शुभम बिष्ट, दीपक, सूरज, विशाल तथा प्रहलाद शामिल थे, को बीती रात एसडीआरएफ की टीम रेस्क्यू कर रात नौ बजे धरासू ले आया गया था। लेकिन अनुज सेमवाल का शरीर सर्दी के कारण शिथिल हो चुका था। अनुज को उपचार भी दिया गया लेकिन उसने रात ही दम तोड़ दिया था।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर