भागवत कथा कल्याणकारीः डा. दुर्गेश आचार्य

टिहरी। हिंडोलाखाल के मुसान गांव में भागवत कथा की शुरूआत कलश यात्रा के साथ हुई। कलश यात्रा का आयोजन कथा वक्ता राष्ट्रीय संत डा. दुर्गेश आचार्य महाराज की अगुआई में हुई। कलश यात्रा गांव से नागराजा मंदिर, घंडियाल मंदिर, गुरु देवता मंदिर, मां ज्वाला देवी मंदिर होते हुये मुख्य मार्गों से निकाली गई। पहले दिन कथा करते हुए डा. आचार्य दुर्गेश महाराज ने कहा कि भागवत कथा मानव कल्याण की कथा है। इसके श्रवण से जीवन को जीने की आसान राह मिलती है। कथा श्रवण में आत्म शक्ति का संचार होता है। मानव कल्याण की ओर बढ़ता है। इस मौके पर लाखी राम थपलियाल, आचार्य नीरज रतूड़ी, गुरु प्रसाद, सीताराम, खुशी राम, शिरीश चंद्र, गिरीश चंद्र, ओम प्रकाश, दीपक थपलियाल आदि मौजुद रहे।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर