पंजाबी सभा ने शहीद वीर हकीकत राय को याद किया 

हरिद्वार। बसंत पंचमी पर्व पर माँ शारदा को शत-शत नमन करते हुए पंजाबी सहायक सभा के प्रांतीय अध्यक्ष संजय चोपड़ा के संयोजन में बेलवाला घाट पर मां गंगा की विशेष पूजा-अर्चना कर शहीद वीर हकीकत राय को याद करते हुए उनका शहीदी दिवस पर श्रद्धासुमन किए। शहीद वीर हकीकत राय सन 1734 में पाकिस्तान सियालकोट में बसंत पंचमी के दिन ही मुगल शासक द्वारा उनकी हत्या की गई थी। तब से पंजाबी समाज शहीद वीर हकीकत राय को याद करते हुए बसंती पंचमी के दिन उनका शहीदे बलिदान दिवस मनाता चला आ रहा है।

इस अवसर पर पंजाबी सहायक सभा के अध्यक्ष संजय चोपड़ा ने कहा कि शहीद वीर हकीकत राय अल्प आयु में ही समाज को नई दिशा दी थी और समाज में अंधविश्वास के खिलाफ छोटी से आयु में ही बड़े पैमाने पर जन जागरण चला रखा था। उनके इस कार्य से मुगल शासकों में बौखलहाट व घबराहट जैसा माहौल था। उनके इस जज्बे को समाप्त करने के उद्देश्य से बसंत पंचमी के दिन मुगलों ने षड़यंत्र के तहत मासूम वीर हकीकत राय की हत्या की थी। संजय चोपड़ा ने कहा कि शहीद वीर हकीकत राय ने समाज में शिक्षा को बढ़ावा दिया था और सामाजिक कार्यों में उनकी लोकप्रियता अधिक थी। शाहिद-ए-आजम वीर हकीकत राय के बलिदान दिवस पर उनको श्रद्धासुमन अर्पित करते पंडित सागर पल्लव, मनीष शर्मा, भूपेंद्र राजपूत, नरेंद्र कीर्तिपाल, विक्की गुप्ता, प्रभात चैधरी, नरेंद्र सिंह, राजेश खुराना, ओमप्रकाशभाटिया, रोहित सेठी, असीम जोशी, जयसिंह बिष्ट, मानसिंह, मोहनलाल, छोटेलाल शर्मा आदि प्रमुख रूप से सम्मलित रहे।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर