पुलिस ने डकैती डालने पहुंचे सात बदमाशों को किया गिरफ्तार

देहरादून। दून पुलिस ने गढ़वाल ज्वेलर्स और रेसकोर्स में शराब कारोबारी के घर डकैती डालने पहुंचे सात बदमाशों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने बंद पड़ी कंपनी के खाते में मौजूद पांच करोड़ देकर ढाई करोड़ लेने का झांसा कारोबारियों को दिया था। बदमाशों ने कारोबारियों के रकम दिखाते ही डकैती की घटना को अंजाम देना था। पुलिस की सक्रियता से दून में बड़ी आपराधिक वारदातें होने से बच गईं।
पुलिस कार्यालय में शुक्रवार को आयोजित पत्रकार वार्ता में डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने बताया कि 2 जनवरी को पुलिस को सूचना मिली कि सहारनपुर से बदमाश ऋषिकेश में गढ़वाल ज्वेलर्स में डकैती डालने पहुंचे थे, लेकिन वह कामयाब नहीं हो सके। इस पर गिरोह के सदस्य दून में वारदात करने को निकल गए। सूचना पर एसपी देहात प्रमेंद्र डोबाल, कोतवाली प्रभारी रितेश साह के नेतृत्व में पुलिस टीम ने घेराबंदी कर बन्नू स्कूल के समीप रेसकोर्स में कार को रुकवा लिया। कार में मौजूद फरमान पुत्र हाशिम निवासी ग्राम बुड्डाहेड़ी थाना पथरी हरिद्वार , संजय कुमार पुत्र कुंवरपाल निवासी ग्राम शाहपुर थाना देवबंद सहारनपुर और बाइक में मौजूद रवि कुमार पुत्र रामनरेश निवासी शाहपुर थाना देवबंद सहारनपुर , अनुज उर्फ शिवम पुत्र राजकुमार निवासी ग्राम सिमालकी थाना छपार मुजफ्फरनगर को गिरफ्तार किया। आरोपियों को नेहरू कालोनी थाने लाकर पूछताछ कीगई। पूछताछ में अपने अन्य सदस्यों के नाम पूरन आहुजा पुत्र रमेश आहुजा निवासीरू 69ध्21, ए-11 टिहरी विस्थापित कालोनी पायल सिनेमा के पास हरिद्वार, देवेन्द्र पुत्र राजीव निवासी अपर राजीव नगर नेहरू कालोनी और पंडित बताए। एसएसपी ने बताया कि पूरन, पंडित और देवेंद्र को भी हिरासत में लिया है। बताया कि गिरोह के सरगना संजय ने बंद कंपनी में पांच करोड़ बताकर बड़े कारोबारियों के घर से डकैती की योजना बनाई थी। योजना के तहत संजय ने दून में रहने वाले पंडित के माध्यम से गढ़वाल ज्वेलर्स के मालिक से संपर्क किया। संजय ने गढ़वाल ज्वेलर्स के मालिक को झांसा दिया गया कि उसके पास एक बंद पड़ी कंपनी के खाते में पांच करोड़ हैं। वह पांच करोड़ ले लें और इसके बदले उसे डेढ़ करोड़ दे दें। इस पर सहमति बनने पर एक जनवरी को गढ़वाल ज्वेलर्स ने डेढ़ करोड़ रुपये दुकान में मेज पर रखे थे।बदमाशों की योजना रकम देखते ही डकैती डालने की थी, लेकिन पुलिस की सक्रियता के चलते बदमाश वारदात नहीं कर सके।अब उन्होंने रेसकोर्स निवासी शराबकारेाबारी टोनी जयसवाल से संपर्क कर पांच करोड़ के बदले ढाई करोड़ देने की बात कही। शराब कारोबारी के सहमति देने पर आरोपीवहां वारदात करने जा रहे थे। बताया कि आरोपियों के खिलाफ नेहरू कालोनी थाने में मुकदमा दर्जकर लिया है।
---------------------------------------------------


Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर