राइंका धुमाकोट में लोकवाद्य यंत्रों के साथ गढ़वाली प्रार्थना व समूहगान शुरू

पौड़ी। राजकीय आदर्श इंटर कालेज धुमाकोट में लोक वाद्य यंत्रों के साथ गढ़वाली प्रार्थना व समूहगान प्रारंभ हो गया है। पौड़ी जिले में आदर्श राजकीय इंटर कालेज धुमाकोट सहित दो स्कूलों को पायलट प्रोजेक्ट के रूप में चयनित किया गया है। इस हेतु डायट चड़ीगांव द्वारा वाद्ययंत्र उपलब्ध कराए जाएंगे। प्रधानाचार्य दर्शन कुमार ने बताया कि फिलहाल अपने स्तर से जुटाए गए संसाधनों के द्वारा वाद्ययंत्रों की व्यवस्था करके गढ़वाली भाषा में प्रार्थना व समूहगान प्रारंभ कर दिया गया है। वंदना व समूहगान की रचना के साथ ही संगीत निर्देशन हिंदी प्रवक्ता महेंद्र ध्यानी द्वारा किया गया है। हारमोनियम पर गिरीश ध्यानी, ढोलक पर पूर्वांशी ध्यानी, हुड़की पर महेंद्र ध्यानी व थाली पर राहुल रावत संगीत कर रहे हैं। गायन संगीता ध्यानी का है व सदनवार छात्राएं साथ में स्वर मिलाती हैं। प्रधानाचार्य ने बताया कि स्कूल की गढ़वाली प्रार्थना व समूहगान की प्रशंसा अपर शिक्षा निदेशक बेसिक एसपी खाली सहित अन्य अधिकारी कर चुके हैं। इस मौके पर हरिमोहन रावत, प्रेमसिंह, शेषनाथ यादव, मोहन सिंह बिष्ट, शालू गौतम आदि शामिल थे।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर