सिंगल-यूज प्लास्टिक के खात्मे की दिशा में बड़ी उपलब्धि हासिल की

देहरादून। अमेजन ने आज भारत में अपने फुलफिलमेन्ट सेंटर्स एफसी से सिंगल-यूज प्लास्टिक को खत्म करने की ओर पहली और बड़ी उपलब्धि हासिल करने की घोषणा की है सितंबर 2019 में कंपनी ने जून 2020 तक अपने फुलफिलमेन्ट नेटवर्क से सिंगल यूज प्लास्टिक को खत्म करने का वचन दिया था और अपनी पैकेजिंग में पेपर कुशंस का उपयोग शुरू किया था चार महीने के समय में कंपनी ने प्लास्टिक पर अपनी सारी निर्भरता सफलतापूर्वक समाप्त की है और देशभर में अपने एफसी में उसकी जगह पेपर कुशन को अपनाया है। 

पेपर कुशन पर्यावरण हितैषी और 100 प्रतिशत पुनःचक्रण योग्य पैकेजिंग समाधान है जिसका उपयोग पैकेजों के भीतर खाली जगह को भरने के लिये किया जाता है, ताकि परिवहन के दौरान उत्पाद सुरक्षित रहे। सितंबर 2019 में अपनी पैकेजिंग में पेपर कुशन की पेशकश से कंपनी प्लास्टिक मुक्त पैकेजिंग विकल्पों के क्रियान्वयन को बढ़ा रही है। कंपनी के सभी एफसी में पेपर कुशन का सफल प्रयोग जून 2020 तक उसके फुलफिलमेन्ट नेटवर्क से सिंगल यूज प्लास्टिक के खात्मे की ओर एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है। अखिल सक्सेना, वाइस प्रेसिडेन्ट, कस्टमर फुलफिलमेन्ट, अमेजन इंडिया ने कहा, प्लास्टिक पर निर्भरता से पूरी तरह मुक्त होना जून 2020 तक अपने फुलफिलमेन्ट सेंटरों से सिंगल-यूज प्लास्टिक को हटाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है हम प्लास्टिक पर अपनी निर्भरता को कम करने के लिये खोजपरक और स्थायी पैकेजिंग समाधानों में निवेश जारी रखेंगे और ग्राहकों के ऑर्डर्स की सुरक्षा भी बरकरार रखेंगे। स्थायित्व हमारे लिये महत्वपूर्ण है क्योंकि इसके तीन लाभ हैं यह हमारे ग्रह, हमारे ग्राहकों और समाज और साथ ही बिजनेस के लिये भी अच्छा है ।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर