भारत में तकनीकी उद्योग को नई ऊर्जा दे रहा है माइक्रोसॉफ्ट


देहरादून। भारत के डेवलपर्स, तकनीकी क्षेत्र के विशेषज्ञों तथा उद्योग जगत के नेताओं के लिए आयोजित सम्मेलन, ‘फ्यूचर डिकोडेड टेक समिट’ में माइक्रोसॉफ्ट ने आज दिखाया कि पूरे देश में हर तरह के व्यवसायों और समुदायों की सफलता में टेक्नोलॉजी के बिल्कुल नए तरीके से उपयोग का कितना अहम योगदान है।

माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला के अनुसार, भारतीय व्यवसाय एवं नए-नए स्टार्टअप दरअसल इनोवेशन के क्षेत्र में लगातार आगे बढ़ रहे हैं, जिससे यह संकेत मिलता है कि अत्याधुनिक तकनीक किस तरह से विकास को गति दे सकती है, ग्राहकों के अनुभव को बेहतर बना सकती है, साथ ही भारत के कुछ महत्त्वपूर्ण सामाजिक मुद्दों एवं पर्यावरण से जुड़ी समस्याओं को दूर कर सकती है।

 श्री नडेला वर्तमान में भारत के दौरे पर हैं तथा इस दौरान उन्होंने कहा कि टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में बड़े पैमाने पर बदलाव के जरिए संगठनों को तीव्र गति से विकास में मदद करना माइक्रोसॉफ्घ्ट का मिशन रहा है-और इसके लिए विभिन्न उपक्रमों को अपनी श्रेणी की सर्वश्रेष्ठ प्रौद्योगिकी को तेजी से अपनाना होगा, अपनी डिजिटल क्षमता का निर्माण करना होगा, तथा उन्हें इस्तेमाल में लाई जा रही टेक्नोलॉजी एवं भागीदार कंपनियों पर पूरी तरह भरोसा करना होगा।“माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ,  सत्या नडेला ने कहा, हमारे पास टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करते हुए आर्थिक विकास को तेज गति से बढ़ावा देने का अभूतपूर्व अवसर मौजूद है, जो भारत सहित पूरी दुनिया के सभी जगहों के लिए समावेशी, विश्वसनीय और संवहनीय है।” इसी वजह से हम देश भर में सभी उद्योग से जुड़े अग्रणी संगठनों के साथ साझेदारी कर रहे हैं, ताकि उन्हें अपनी डिजिटल क्षमता का निर्माण करने, अपने संगठनों के स्वरूप को पूरी तरह बदलने तथा इस नए युग में और अधिक उपलब्धियां हासिल करने में मदद मिल सके।” फ्यूचर डिकोडेड टेक समिट को संबोधित करते हुए, श्री नडेला ने भारतीय संगठनों में तकनीक के गहने उपयोग से जुड़े उदाहरणों को संक्षेप में प्रस्तुत किया।

भारत में फैशन एवं लाइफस्टाइल के एक प्रमुख डेस्टिनेशन, मिन्त्रा द्वारा इनोवेशन, रफ्तार और स्फूर्ति पर ध्यान केंद्रित करने तथा नेतृत्वकर्ता के तौर पर अपनी स्थिति को आने वाले समय में और मजबूती प्रदान करने के लिए ऐशर का उपयोग किया जा रहा है। ऐशघ्र की अनुकूलनीयता मिन्त्रा को फेस्टिव सीजन के दौरान अपने दायरे को तेजी से बढ़ाने तथा चुनौतियों को दूर करने में मदद कर रही है। ऐशर का इस्तेमाल शुरू करने के बाद से, मिन्त्रा ने हर दो साल बाद आयोजित किए जाने वाले अपने श्एंड ऑफ रीजन सेलश के नवीनतम संस्करण के दौरान आर्डर में 50 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है।


Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर