सड़क सुरक्षा सुधारीकरण कार्योंं को प्राथमिकता के आधार पर पूरे करने के दिए निर्देश


देहरादून। अपर जिलाधिकारी प्रशासन रामजी शरण शर्मा की अध्यक्षता में कलेक्टेªट सभागार में जनपद स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित की गयी। बैठक में अपर जिलाधिकारी द्वारा सड़क सुरक्षा समिति से जुडे़ हुए लोक निर्माण विभाग, परिवहन विभाग, यातायात पुलिस, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, जल संस्थान, विद्युत विभाग, राजस्व विभाग के अधिकारियों को दुर्घटनाओं की रोकथाम करने और यातायात को सुगम व निर्बाध बनाने के लिए किये जाने वाले सड़क सुरक्षा सुधारीकरण कार्योंं को प्राथमिकता के आधार पर पूरे करने के निर्देश दिये। 

उन्होंने लोक निर्माण विभाग व राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों को उनके अन्तर्गत आने वाले क्षेत्रों में यातायात में बाधित चिन्हित ब्लैक स्पाॅट में सुधार करने, स्पीड लिमिट बोर्ड, ऐरो साईन, सड़क पर फैली निर्माण सामग्री को हटाने, रम्बल स्ट्रीप, साईन बोर्ड लगाने और जहां भी दुर्घटना के लिए जोखिम सम्भावित हो वहां पर तद्नुसार सुधारात्मक कार्य करते हुए अगली बैठक तक कृत कार्यवाही से अवगत कराने के निर्देश दिये। उन्होंने लोक निर्माण विभाग को शिव मन्दिर मसूरी रोड में पार्किंग हेतु कार्य योजना बनाने, मैगी प्वांईट मसूरी में सड़क की जल निकासी को सुगम बनाने, डीआईटी कालेज के पास में कालेज का साईन बोर्ड लगाने व रम्बल स्ट्रीप बनाने, जाखन में सड़क पर स्ट्रीप रैम्प व रिफ्लेक्टर लगाने व उसकी पोजिशन को ठीक करने, आईटी पार्क सहस्त्रधारा रोड में स्पीड ब्रेकर बनाने व टूटे हुए डिवाईडर को हटाने के निदेश दिये। उन्होंने एक बार अपने-अपने क्षेत्रों की सड़कों का अवलोकन करते हुए सड़क सुरक्षा की दृष्टि से किये जाने वाले कार्यों को शीर्घता से पूर्ण करने के भी निर्देश दिये। विद्युत विभाग को विभिन्न क्षेत्रों में यातायात में बाधक विद्युत पोल को हटाने, शिफ्ट करने अथवा आवश्यकता अनुसार उसके डिजाईन में परिवर्तन करते हुए कार्य करने के निर्देश दिये।

अपर जिलाधिकारी ने यातायात पुलिस को परिवहन विभाग तथा सड़क सुरक्षा समिति को साझा किये जाने वाले विवरण में विभिन्न क्षेत्रों में हुई दुर्घटना की एक्जेक्ट लोकेशन तथा दुर्घटना का वास्तविक कारण दर्शाने को कहा। परिवहन विभाग व पुलिस विभाग को संयुक्त रूप से जिन स्थानों पर सीसी टीवी कैमरे लगाये जाने जरूरी हैं उनको लगाने तथा जहां पर मुख्य सड़क, सम्पर्क मार्ग अथवा फुटपाथ पर अतिक्रमण किया गया हो उसको सम्बन्धित उप जिलाधिकारी के समन्वय से अतिक्रमणमुक्त करवाने की कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि ऐसे स्थान पर जहां नेशनल हाईवे अथवा मुख्य सड़क पर सीधे सम्पर्क मार्ग अथवा गली से छोटी सड़क मिलती हो वहां पर विशेष ध्यान देते हुए 5 मीटर पहले रम्बल स्ट्रीप लगायें और आवागमन को चैनलाईज करते हुए मार्किंग करें। उन्होंने परिवहन कर अधिकारी विकासनगर को विकासनगर क्षेत्र में सड़क सुरक्षा से सम्बन्धित कार्यों का क्षेत्र विजिट करते हुए जहां-जहां सुधार करने की जरूरत हो उन लोकेशन की फोटोग्राफ सहित विवरण प्रस्तुत करने को निर्देशित किया। बैठक में सहायक परिवहन अधिकारी अरविन्द पाण्डेय द्वारा प्रजेन्टेशन के माध्यम से जनपद के ऐसे विभिन्न क्षेत्र जो सड़क दुर्घटनाओं की दृष्टि से संवेदनशील हैं, को समिति के समक्ष प्रजेन्टेशन के माध्यम प्रस्तुत किया। इस अवसर पर सी.ओ यातायात राकेश देवली, अधिशासी अभियन्ता लो.नि.वि साहिया डी.पी सिंह, अधिशासी अभियन्ता एन.एच डोईवाला शिव सिंह रावत, एस.डी.ओ वन विभाग विनय मोहन रतूड़ी सहित परिवहन, पुलिस विभाग, लो.नि.वि, विद्युत विभाग  आदि समिति के सम्बन्धित विभागों के अधिकारी कार्मिक उपस्थित थे।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर