शाहीन नाज ने फिर किया उत्तराखणड का नाम रोशन


 

देहरादून। शाहीन नाज ने मनीपुर में हुई 41वीं मास्टर चेंपियनशिप 9 से 14 फरवरी 2020 में डिस्कस थ्रो में चांदी व भाला फेंकने में तांबे का पदक जीत कर प्रदेश का नाम रोशन किया। आपको याद करावा दें कि शाहीन नाज ने बीते साल जुलाई के माह में यूरोपियन मास्टर गेम्स में उत्तराखण्ड की शाहीन नाज ऐथेलेटिक्स में भारतीय टीम का प्रतिनिधिव किया व कनाडा अपनी जगह पक्की भी की। 

टूरीन ईटली में 26 जुलाई से 14 अगस्त तक यूरोपियन मास्टर गेम्स का आयोजन हुआ था। इसमें 35$ आयु वर्ग में खेलने वाली भारतीय एथलेटिक्स टीम में उत्तराखण्ड की एकमात्र खिलाडी शाहीन नाज को शामिल किया गया था। साल 2018 में मलेशिया में हुई 32वीं मलेशियन इंटरनेशनल ओपन मास्टर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीत कर भारत का नाम रोशन किया, वहीं नेश्नल लेवल की चैंपियनशिप में आंध्र प्रदेश के घंतूर प्रांत में हुई चैंपियनशिप व देहरादून में हुई नेशनल गेम्स में दोनो ही शोर्टपुट व डिसकस थ्रो में गोल्ड जीता व उत्तराखण्ड का नाम रोशन किया। शाहीन नाज स्कूल के दिनो से ही नेश्नल हैंड बाॅल की खिलाडी रहीं है व दो साल पहले ही इन्होनें शार्टपुट व डिसकस थ्रो फैंकना शुरू किया है। शाहीन स्पोर्टस परिवास से ही संबंध रखती है ,इनके पति हाॅकी के नेशनल खिलाडी हैं व ओएनजीसी में कार्यरत हैं। स्पोर्टस परिवार से होने की वजह से ही शाहीन नाज हर बार अपनीे खेल में अच्छा हुनर दिखा कर कई पदक जीतती आ रही हैं। मणिपुर में हुई चैंपियनशिप में मेडल जीत कर जुलाई 2020 में कनाडा में होने जा रही वर्ड कप चैंपियनशिप में अपनी जगह पक्की की व जुलाई माह में शाहीन देश का प्रतिनिधित्व करेंगी।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर