यातायात व्यवस्था सुधारने के प्रयासांे को पलीता लगा रही खराब सड़कें

देहरादून। दून पुलिस जहां राजधानी की यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाने के लिए पसीना बहा रही है वहीं सड़कों की खस्ताहाली उसकी मेहनत पर पानी फेर रही है। टूटी फूटी इन सड़कों पर हर वक्त जाम की स्थिति बनी रहती है और वाहन हिचकोले खाते दिखायी देते है। यातायात व्यवस्था सूचारू रहे क्या इसकी जिम्मेदारी सिर्फ पुलिस विभाग की ही है यह एक सोचनीय सवाल है।

रायपुर रोड के चूना भट्टा के आस पास की स्थिति बेहद खराब है। यहां से गुजरना न सिर्फ जोखिम भरा है बल्कि दो मिनट के सफर में घंटों का सफर भी लग रहा है। राजधानी दून की सड़कों की खस्ताहाली की यह स्थिति सिर्फ रायपुर रोड तक ही सीमित नहीं है, राजधानी की तमाम सड़कों की हालत लगभग एक जैसी ही है। मानसूनी सीजन बीतने के बाद हर बार दून की सड़कों को सुधारने का काम युद्ध स्तर पर किया जाता रहा है लेकिन इस साल राजधानी की सड़कों की मरम्मत के लिए बजट जारी होने के बाद भी उनकी हालत जस की तस बनी हुई है। इन दिनों राजधानी दून में स्मार्ट सिटी के जो काम चल रहे हंै उसके तहत राजपुर रोड व सुभाष रोड के साथ साथ पल्टन बाजार की सड़क पर भी पाइप लाइने डालने के लिए जगह जगह खुदाई का काम किया जा रहा है जिसके कारण पूरे शहर की सड़कों की हालत अत्यन्त ही खराब हो चुकी है। पूरे शहर की सड़कों पर गहरे गड्ढे और धूल के गुबार की स्थिति बनी हुई है। खराब सड़कों के कारण यातायात भी बाधित हो रहा है। जगह जगह गहरे गढढों से दुर्घटनाए भी हो रही हंै। जहां देखो जाम की स्थिति बनी रहती है। दून पुलिस यातायात को सुधारने के लिए  जितनी भी कोशिशें कर रही है उन कोशिशोें को खराब सड़कें पलीता लगा रही हैं।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर