कांग्रेस नेता बौखलाहट में संवैधानिक संस्थानों पर प्रदर्शन करने से भी गुरेज नहीं कर रहेः भगत

देहरादून। कांग्रेस पार्टी और उसके नेता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के एक साल के कार्यो से पूरी तरह से बौखलाहट में है जिस कारण वो अपनी नैतिकता खोकर जनता का ध्यान भटकाने के लिए राजभवन जैसे संवैधानिक संस्थानों पर प्रदर्शन करने से भी गुरेज नही कर रहे है। यह बात प्रदेश भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता करते हुए प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कही।
    श्री बंशीधर भगत ने लोकतंत्र की हत्यारी कांग्रेस के लोग जब लोकतंत्र की बात करते है तो मामला बड़ा हास्यास्पद सा लगता है कांग्रेस के नेताओं ने अपनी कुर्शी बचाने के लिए आपातकाल लगाया, आपातकाल में लोगो का उत्पीड़न किया, कांग्रेस ने कई जगहों पर जनता द्वारा चुनी गई कई सरकारों  को भंग किया और आज जनता का सिर्फ ध्यान भटकाने के लिए अपने परिवार में चल रहे कलह  को छुपाने दोष भाजपा सर पर मढ़ने की कोशिस कर रहे हैं । उन्होंने कहा कि राजभवन व राज्यपाल एक सवैंधानिक संस्था है लेकिन कांग्रेस ने  उत्तर प्रदेश में कल्याण सिंह की बहुतमत वाली सरकार सविंधान के विरुद्ध सरकार भंग की
आज कांग्रेस ये मानने लगी है कि बीजेपी ताकतवर पार्टी है, वो सरकार तोड़ सकती है, लेकिन बीजेपी की ऐसी कभी कोई मंशा नही रहती है भाजपा लोकतंत्र में विश्वास करने वाली पार्टी है। श्री भगत ने कहा कांग्रेस राज में नेता मंत्री अपना घर भरा करते है बीजेपी राज में नेता जनता की सेवा कर विकास कार्यों को गति देते हैं।
कांग्रेस नेताओ के इस आरोप पर कि कोविड नियमावली का पालन न करने पर कांग्रेसियों पर ही मुकदमा  दर्ज किया गया पर कहा कि ऐसा नही है  कोरोना फैलने से रोकने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बिना किसी भेदभाव के  प्रभावी कदम उठाए है उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि कोविड नियमावली का पालन न करने वाले सभी लोगो पर समान रूप से कार्यवाही की गई है जिसमे भाजपा के लोग भी शामिल हैं। इसमे पुलिस व प्रशासन अपने ढंग से कार्य करती है। श्री भगत ने कहा कि भाजपा को कोविड नियम के अंतर्गत  कांग्रेस के धरना प्रदर्शन से कोई परेशानी नही है लेकिन कांग्रेस को अपनी राजनीति चमकाने के लिए दूसरों की जान को जोखिम में डाल रही है। श्री भगत ने कहा कि कोरोना की भयावह स्थिति को देखते हुए  पार्टी ने अपने आगे के कार्यक्रम स्थगित कर दिए है। उन्होंने कहा कि रक्षा बंधन के बाद भाजपा का प्रत्येक विधानसभा में 2 हजार लोगों से संपर्क कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सरकार-2 की उप्लब्धधियों को जन जन तक पहुँचाने का कार्यक्रम प्रस्तावित था एवं अन्य सभी कार्यक्रमो को  बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते स्थगित कर दिया गया है।


Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

शिक्षा अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने को एसएसपी को भेजा पत्र, DG शिक्षा से की विभागीय कार्रवाई की मांग