प्रत्येक जनपद से एक विशेष उत्पाद का चयन किया जाएगा

-भारतीय अर्थव्यवस्था में उत्तराखण्ड का योगदान बढ़ाने और निर्यात में वृद्धि के लिए योजना बनाई जाएगी

देहरादून। भारत सरकार के उद्योग और वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने आॅनलाइन, आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिये एक जनपद से एक उत्पाद का चुनाव करने विषय पर बैठक लिया है। राज्य सरकार की तरफ से नगर विकास मंत्री मदन कौशिक ने राज्य का पक्ष रखा।
इस संदर्भ में भारतीय अर्थव्यवस्था में उत्तराखण्ड का योगदान बढ़ाने और निर्यात में योगदान वृद्धि के लिये योजना बनाई जाएगी। इसके लिये प्रत्येक जनपद से एक विशेष उत्पाद का चयन किया जाएगा। उत्तराखंड के विभिन्न जनपदों में शहद, मशरूम, फार्मा कम्पनी और हर्बल उत्पादन में विशेष योगदान दे रहे हैं। प्रत्येक जनपद से चयनित उत्पाद को भारत सरकार विशेष सब्सिडी देगा।
मदन कौशिक ने उत्तराखण्ड का पक्ष रखते हुए कहा कि राज्य के सर्विस सेक्टर के क्षेत्र में आयुर्वेद, स्पा, वेलनेस, ईको-टूरिज्म, एडवेंचर के क्षेत्र में विभिन्न कार्य कर रहा है। यह कार्य समपूर्ण राज्य में हो रहा है, अतः जनपद के स्थान पर सम्पूर्ण राज्य को इस योजना में शामिल किया जाए। इसके अलावा, कृषि एवं उद्यान में वैली के आधार पर विशेष उत्पाद का चुनाव भी योजना में शामिल करने का अनुरोध किया गया है। बैठक में बताया गया कि उत्तराखण्ड हिमालयी राज्यों में, एक्सपोर्ट रैंकिंग में उत्तराखंड ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। राज्य की एक्सपोर्ट पालिसी बना दी गयी है और एक्सपोर्ट कमिश्नर नियुक्त कर दिया गया है। सिंगल विंडो स्कीम के तहत मुख्यमंत्री स्व-रोजगार योजना में कोविड के प्रभाव से रोजगार देने के लिए 24000 से अधिक आवेदन प्राप्त हुए हैं।  
बैठक में सचिव हरबंस सिंह चुघ, एस.ए. मुरुगेशन, उद्योग विभाग के निदेशक सुधीर नौटियाल एवं उपनिदेशक अनुपम त्रिवेदी मौजूद थे।


Featured Post

चौबट्टाखाल के लोगों को मदद करने के लिए उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी ने शुरू की अनोखी पहल

सतपुली/देहरादून। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के चैबट्टाखाल संयोजक चंद्रशेखर नेगी ने लोगों को मदद करने के लिए अनोखी पहल की शुरुआत की। पूर्व ...