Friday, 25 September 2020

आजीविका पैकेज माॅडल के अन्तर्गत लाभार्थी के चयन के समय पारदर्शिता बरते

रूद्रपुर। मुख्य विकास अधिकारी हिमांशु खुराना की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में आजीविका पैकेज माॅडल, मनरेगा में विभागीय कन्र्वेजेन्स, मुख्यमंत्री सीमान्त क्षेत्र विकास योजना व मुख्यमंत्री पलायन रोक-थाम योजना के अन्तर्गत 2020-21 की वार्षिक कार्य योजना की समीक्षा बैठक आयोजित हुई। मुख्य विकास अधिकारी ने आजीविका पैकेज माॅडल के आधारभूत तथ्यों पर सम्बन्धित विभाग के अधिकायों से चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होने निर्देश देते हुये कहा कि आजीविका पैकेज माॅडल के अन्तर्गत लाभार्थी के चयन के समय पारदर्शिता बरते हुये एसइसीसी परिवार के सदस्यों को विशेष प्राथमिकता दे। उन्होने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा कि वे ग्राम पंचायतवार लाभार्थियों का चयन कर प्रस्ताव खण्ड विकास अधिकारियों के माध्यम से उपलब्ध कराये। उन्होने कहा कि कार्यो में किसी भी प्रकार की कोई कठिनाई आ रही हो तो वे अवगत कराये। मुख्य विकास अधिकारी ने अधिशासी अभियन्ता सिंचाई खण्ड काशीपुर, जिला कार्यक्रम अधिकारी व सहायक निदेशक मत्स्य को बैठक में न पहुंचने पर कारण स्पष्ट करने के निर्देश दिये है। पीडी हिमांशु जोशी ने मुख्यमंत्री सीमान्त क्षेत्र विकास योजना की सम्बन्धित अधिकारियों को विस्तार से अवगत कराते हुये कहा कि 0-50 किमी0 दूरी तक अवस्थित ग्रामों हेतु मुख्यमंत्री सीमांत क्षेत्र विकास योजना लागू होगी। इस अवसर पर डीडीओ अजय जोशी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी जीएस दानी, जिला पंचायतराज अधिकारी विद्या सिंह सोमनाल, मुख्य कृषि अधिकारी डा0 अभय सक्सेना, जिला उद्यान अधिकारी एचसी तिवारी आदि उपस्थित थे।


Featured Post

एसजेवीएन ने अखिल भारतीय कवि सम्‍मेलन का किया सफल आयोजन

देहरादून, गढ़ संवेदना न्यूज नेटवर्क। आजादी का अम...