Thursday, 10 September 2020

गर्जिया देवी मंदिर अक्टूबर से खोलने को ग्राम प्रधान ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन



रामनगर। लॉकडाउन खुलने के बाद कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विश्व प्रसिद्ध गर्जिया देवी मंदिर को बंद कर दिया गया था। 30 अगस्त को मंदिर समिति की बैठक की गई थी। उस दौरान 18 सितंबर से मंदिर को खोलने का निर्णय लिया गया था। इसी सिलसिले में आज देवी चैड़ के मनोनीत ग्राम प्रधान ने उपजिलाधिकारी को ज्ञापन देते हुए मंदिर को 30 सितंबर तक बंद रखने और अब 1 अक्टूबर से खोलने की मांग रखी है।
दरअसल पितृ पक्ष के बाद 18 सितंबर से प्रसिद्ध गर्जिया देवी माता के मंदिर को खोलने का निर्णय लिया गया था। इसी संबंध में आज गर्जिया मंदिर क्षेत्र देवी चैड़ के मनोनीत ग्राम प्रधान शिवराम के नेतृत्व में कई लोग उप जिलाधिकारी से मिले और उन्होंने मांग रखी कि देवीचैड़, ढिकुली और सुंदरखाल क्षेत्र की जनता को मंदिर खुलने से परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। वर्तमान में इन क्षेत्रों की जनता अभी ठीक-ठाक और स्वस्थ है। स्थानीय लोगों का कहना है कि मंदिर खुलने पर वहां भीड़ एकत्र होगी, जिससे यहां के लोगों में कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा है। दिन पर दिन कोरोना के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। इस क्षेत्र में अधिकतर मजदूर वर्ग के लोग रहते हैं, जो रोज कमाते-खाते हैं।


Featured Post

तपोवन बाजार व्यापार मंडल इकाई का गठन, भुवन पालीवाल बने अध्यक्ष

देहरादून। दून वैली महानगर उद्योग व्यापार मंडल द्वारा रायपुर के तपोवन बाजार में अपनी इकाई का गठन किया गया, जिसमें भुवन पालीवाल को दून वेल...