Tuesday, 8 September 2020

हिमालय जल, जीवन और पर्यावरण का मूल आधारः बत्रा



हरिद्वार। एस.एम.जे.एन. काॅलेज में प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने हिमालय दिवस के अवसर पर आज पर्यावरण संरक्षण अभियान का शुभारम्भ किया। सर्वप्रथम काॅलेज के शिक्षकों व शिक्षणेत्तर कर्मचारियों को हिमालय रक्षा की शपथ दिलायी गयी।
महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने कहा कि हिमालय जल, जीवन और पर्यावरण का मूल आधार है। हम सभी को आज संकल्प लेना होगा कि पर्वतराज हिमालय को किसी भी प्रकार का नुकसान न पहुंचे। उन्होंने कहा कि पर्यावरण संरक्षण जनजागृति के बिना अपूर्ण रहेगा। डाॅ. बत्रा ने कहा कि वैश्विक स्तर पर पर्यावरण को सन्तुलित करने में हिमालय की महत्वपूर्ण भूमिका  है। पर्यावरण के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए सभी को आगे आना होगा। उत्तराखण्ड प्रदेश का सामाजिक और सांस्कृतिक ताना-बाना हिमालय पर पूर्ण रुप से आधारित है। तथा कोरोनावायरस काल में हिमालय ही मानव जीवन को संरक्षित करेगा। उन्होंने काॅलेज कर्मचारियों से हिमालय रक्षा का आह्वान किया। कार्यक्रम में डाॅ. मन मोहन गुप्ता, डाॅ. जे.सी. आर्य, डाॅ. नलिनी जैन, प्रो. विनय थपलियाल, डाॅ. सुषमा नयाल, कार्यालयाधीक्षक मोहन चन्द्र पाण्डेय, वेद प्रकाश चैहान, डाॅ. मनोज कुमार सोही, डाॅ. शिव कुमार चैहान, वैभव बत्रा, डाॅ. रिचा मनोचा, श्रीमती रिंकल गोयल, कु. सुगन्ध वर्मा, डाॅ. लता शर्मा, विवेक मित्तल, अंकित अग्रवाल, डाॅ. सरोज शर्मा, डाॅ. कुसुम नेगी, पंकज यादव, महिमा राणा, मेहुल सिंह, डाॅ. मोना शर्मा, दिव्यांश शर्मा, डाॅ. पदमावती तनेजा, डाॅ. प्रज्ञा जोशी, कु. नेहा गुप्ता, पूर्णिमा सुन्दरियाल, विनीत सक्सेना, नेहा सिद्दकी, डाॅ. विजय शर्मा, आदि शिक्षक व कर्मचारी  कोविड 19 के दिशा-निर्देशों के अनुरूप उपस्थित रहे।


Featured Post

उत्तराखंड में बारिश से हाल बेहाल, राज्य की 154 सड़कें पड़ी हैं बंद

देहरादून। प्रदेश में मॉनसून लगातार सक्रिय है। भारी बारिश के कारण शुक्रवार 30 जुलाई तक प्रदेश में 154 छोटे-बड़े मार्ग बंद हैं, जिन्हें खोलने...