Wednesday, 21 October 2020

पीआरडी स्वयंसेवकों की बजट के अभाव में कर दी छुट्टीः मोर्चा  


-कोरोना महामारी जैसी विपदा में ली गई थी इनकी सेवाएं

विकासनगर। जन संघर्ष मोर्चा अध्यक्ष एवं जीएमवीएन के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने कहा कि 17 अक्टूबर को जिला युवा कल्याण एवं प्रांतीय रक्षक दल ने लगभग 70 स्वयंसेवकों को ड्यूटी से पृथक करने के आदेश जारी किए, जोकि बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण हैं। नेगी ने कहा कि कोरोना जैसी भयंकर महामारी, जिस समय इसके नाम से ही जनमानस घबरा जाता था, उस समय इनके द्वारा मुश्किल घड़ी में सरकार का साथ दिया गया, लेकिन काम निकलते ही यानी कोरोना की गति मंद होते ही इनको बाहर का रास्ता दिखाया गया। नेगी ने कहा कि स्वयं सेवकों द्वारा मोर्चा के संज्ञान में बात लाई गई कि अप्रैल 2020 में इनको तैनात किया गया था तथा इस भीषण बेरोजगारी के दौर में इनको घर बैठा दिया गया। उक्त मामले को लेकर नेगी ने जिलाधिकारी आशीष श्रीवास्तव से दूरभाष पर वार्ता कर एवं पत्र प्रेषित कर अन्य मदों से बजट उपलब्ध कराने का आग्रह किया, जिस पर जिलाधिकारी ने यथासंभव मदद का भरोसा दिलाया।


Featured Post

जवानों की शहादत का कोई मोल नहीं है केंद्र सरकार की नजरों मेंः मोर्चा

-देश की एजेंसियों को विरोधियों को कमजोर करने व चुनावी षड्यंत्र के काम से हटाए सरकार -उत्तराखंड के जवानों की दिनों-दिन हो रही शहादत पर...