Saturday, 24 October 2020

प्रदेश में 288 नए कोरोना संक्रमित मिले, 11 की मौत

देहरादून। उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में 288 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं, जबकि 11 मरीजों की मौत हुई है। वहीं, 518 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद घर भेजा गया है। कुल संक्रमितों की संख्या 60 हजार के करीब पहुंच गई है। वहीं, 53718 मरीज ठीक हो चुके हैं। 
स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, शुक्रवार को 12363 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव मिली है। ऊधमसिंह नगर जिले में सबसे अधिक 62 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। देहरादून में 44, पौड़ी में 41, नैनीताल में 33, रुद्रप्रयाग में 26, हरिद्वार में 17, उत्तरकाशी में 14, बागेश्वर में 13, चमोली में 10, टिहरी में 12, चंपावत में सात, अल्मोड़ा में पांच और पिथौरागढ़ जिले में चार कोरोना संक्रमित मामले सामने आए हैं। संक्रमित मरीजों की संख्या 59796 हो गई है। प्रदेश में आज 11 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हुई है। इसमें एम्स ऋषिकेश में दो, दून मेडिकल कॉलेज में एक, हिमालयन हॉस्पिटल में एक, महंत इंदिरेश हॉस्पिटल में दो, जिला अस्पताल ऊधमसिंह नगर में एक, जिला अस्पताल बागेश्वर में एक, सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी में दो और एचएनबी बेस हॉस्पिटल श्रीनगर में एक मरीज ने दमतोड़ा है। उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित मरीजों की तुलना में ठीक होने वालों की रफ्तार लगातार बढ़ रही है। एक माह के भीतर प्रदेश की रिकवरी दर का ग्राफ 18 प्रतिशत बढ़ा है। ऊधमसिंह नगर जिला रिकवरी दर में पहले स्थान पर है। जबकि हरिद्वार दूसरे और टिहरी तीसरे स्थान पर है। सबसे कम रिकवरी दर पौड़ी जिले की 81 प्रतिशत है। प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के ठीक होने की रफ्तार तेजी से आगे बढ़ रही है। एक माह पहले 22 सितंबर को जहां प्रदेश की रिकवरी दर 71 प्रतिशत थी। वहीं, अब 89 प्रतिशत से अधिक हो गई है। ऊधमसिंह नगर जिले में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर सबसे ज्यादा 95 प्रतिशत है, जबकि ये हरिद्वार जिले की 93 और टिहरी जिले की 91 प्रतिशत है। नैनीताल और अल्मोड़ा जिले की रिकवरी दर भी 90 प्रतिशत से ऊपर है। जबकि आठ जिलों में ठीक होने वाले मरीजों की दर 81 प्रतिशत से अधिक है।


Featured Post

सीएम ने कारगिल शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गांधी पार्क, देहरादून में शौर्य दिवस के अवसर पर शहीद स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित कर कारगिल शहीदों...