Tuesday, 6 October 2020

व्यापारी और भवन स्वामी मुआवजा न मिलने से गुस्से में

रुद्रप्रयाग। ऑलवेदर रोड की कटिंग, नाली निर्माण का काम भले ही तेजी से किया जा रहा हो किंतु प्रभावित व्यापारी और भवन स्वामियों को अब तक मुआवजा नहीं मिला है। प्रभावितों ने प्रशासन पर मुआवजा देने में देरी और लापरवाही का आरोप लगाया है। कहा कि एक ओर योजना का काम पूरा होता जा रहा है बावजूद मुआवजा देने में ढिलाई बरती जा रही है जिससे लोग आक्रोशित है। नगर मुख्यालय में ऑलवेदर योजना का काम तेजी से चल रहा है। सड़क के चैड़ीकरण के चलते कई दुकानें और भवन तोड़ दिए गए हैं। जबकि कई व्यापारियों ने स्वयं अपने भवन पीछे किए है किंतु सरकार की घोषणा के बाद प्रभावित व्यापारी एवं भवन स्वामियों को मुआवजा नहीं मिला है। स्थानीय निवासी अखिल काला, अमिताभ काला, डॉ अमित रतूड़ी, सोहन सिंह पंवार, महावीर पंवार सहित कई पक्के और कच्चे दुकान संचालक एवं भवन स्वामियों ने आरोप लगाया कि प्रशासन बीते आठ माह से लोगों को गुमराह कर रहा है। सरकार की ओर से मुआवजा देने की घोषणा के बाद भी उन्हें मुआवजा देने में लापरवाही की जा रही है। योजना का अधिकांश काम भी पूरा हो गया है किंतु प्रभावितों की कोई सुनने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि यदि शीघ्र मुआवजा नहीं मिला तो वह आंदोलन को बाध्य होंगे। इधर अपर जिलाधिकारी राम शरण शर्मा ने बताया कि सरकारी प्रक्रिया के तहत पत्रावलियां मांगी गई है। जिनका भवन और व्यापार संचालन का 12 साल का रिकार्ड मिल जाएगा उन्हें, तत्काल मुआवजा दिया जा रहा है। नगर पालिका से भी भवन कर का रिकार्ड मांगा गया है जबकि प्रभावित को भी स्वयं बिजली, टेलीफोन बिल आदि का रिकार्ड उपलब्ध कराना होगा। सभी प्रक्रिया पूरी होने के बाद मुआवजा दिया जाएगा।


Featured Post

तीरथ सरकार 100 दिन बेकार को लेकर आप कार्यकर्ता उतरे सड़कों पर

देहरादून। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के 100 दिनों के असफल कार्यकाल को लेकर आज आम आदमी पार्टी ने प्रदेश की सभी 70 विधानसभा क्षेत्रों में ...