Thursday, 12 November 2020

डीएम ने दिए पेयजल कनेक्शन देने के लिए प्राकलन तैयार करने के निर्देश

देहरादून। जिलाधिकारी व अध्यक्ष जिला जीवन मिशन डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में कैम्प कार्यालय में समीक्षा बैठक आयोजित की गई। समीक्षा बैठक में एफएचटीसी (घर-घर पेयजल लाईन कनैक्शन) योजना पर चर्चा की गई। चर्चा के दौरान जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्थाओं पेयजल निगम और जल संस्थान को निर्देश दिए कि जनपद में ऐसे स्थान जहां पर पाइपलाईन उपलब्ध ना होने के चलते पेयजल कनैक्शन के कार्य नहीं हो पा रहे हैं वहां पर पेयजल कनैक्शन देने के लिए प्राक्लन तैयार करें। साथ ही उन्होंने कहा कि जो प्राक्लन जिला जल एवं स्वच्छता मिशन से राज्य जल एवं स्वच्छता मिशन की समिति में अनुमोदन हेतु गये हैं उनको प्राथमिकता से स्वीकृति कराएं। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने निर्देशित किया  पेयजल कनेक्शन योजना के तहत् जो नाम पोर्टल पर जुड़ने हैं और जो हटने हैं इसमें जो अतिरिक्त गैप आ रहा है उन 2117 अतिरिक्त नामों को भारत सरकार से पोर्टल पर एन्ट्री हेतु अनुमति लेने के सम्बन्ध में जरूरी कार्यवाही करें। जनपद में पेयजल कनैक्शन विहनी स्थानों की लगभग 400 से अधिक की डीपीआर बनती हैं जिनमें  से 150 की डीपीआर बन चुकी है और उसमें से 107 को राज्य समिति के अनुमोदन हेतु पे्रेषित किया गया है। जिस पर पर आज की तिथि स्वीकृति नही मिली है। जिलाधिकारी ने राज्य जल एवं स्वच्छता समिति से इस सम्बन्ध में पहल करते हुए शीघ्रता से स्वीकृति कराने को कहा। जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्थाओं को यह निर्देश दिए कि जनपद में ऐसे स्थान जहां पर गर्मियों में पानी की सप्लाई कम अथवा बाधित हो सकती हैं ऐसे स्थानों पर निर्बाध पेयजल आपूर्ति बनाए रखने के लिए भी डीपीआर बनाते हुए राज्य समिति को प्रेषित करें।इस दौरान बैठक में मुख्य विकास अधिकारीध्उपाध्यक्षा जिला जल एवं स्वच्छता समिति   नितिका खण्डेलवाल, नोडल अधिकारी अधीक्षण अभियन्ता एस.एसी पंत, अधिशासी अभियन्ता नमित रमोला, मीसा सिंह सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।


Featured Post

व्यासी जल विद्युत परियोजना को ऊर्जाकृत करने के परियोजना के आवश्यक कार्य लगभग पूर्ण हुए

देहरादूना। महाप्रबन्धक (जनपद) व्यासी परियोजना डाकपत्थर सुनील कुमार जोशी ने अवगत कराया है कि व्यासी जल विद्युत परियोजना को ऊर्जाकृत करने हेतु...