Sunday, 1 November 2020

दून एनिमल वेलफेयर के सहयोग से महिलाएं तैयार कर रहीं गोबर के दीपक



देहरादून। गोबर बन रहा रोजगार का साधन, महिलाएं तैयार कर रही गोबर से दीपक। गोबर महिलाआंे के लिए रोजगार का साधान बन कर सामने आ रहा है। देहरादून की अशिक्षित महिलायें दून एनिमल वेल्फेर संस्था के साथ मिलकर गोबर से दीपक तैयार कर रही हैं। उनके द्वारा तैयार दीपक, लटकन, सिक्के, चरण, मूर्तियाँ इस वर्ष की दीवाली पर्व में बिक्री होकर घर-घर पहंुचेगा और गोबर की दीपक से घर रोशन होंगे।
संस्था की संस्थापक मिली कौर अरोरा ने बताया कि इस वर्ष दिवाली पर रंग-बिरंगे दीपक दिखने को मिलेंगे। महिलाओं के द्वारा गोबर के दीपक बनाकर उन्हें को रंग-रोगन करके उसे सुन्दर बनाया जा रहा है। बताया गया कि मौजूद सांचे में गोबर भरकर दीपक को तैयार किए जाता है। सूखने के बाद उसमें रंग-रोगन किए जाता है। जिससे यह दीपक काफी आकर्षक होते हंै। गोबर से दीपक बनाने का कार्य गौ-संचालन समिति की महिलाएं कर रही हैं। नरेंद्र मोदी की मुहिम कामधेनु दिवाली के अंतर्गत सभी गौ सेवा में लगे लोगों द्वारा आम जनता से निवेदन है की इस वर्ष हम सब पहले की तरह पंचगव्य आधरित सामान का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करंे और लोगों को भी प्रेरित करंे। पूरे भारत में घर बैठे गोमय आधारित समान खरीदने के लिए संपर्क करें।


Featured Post

चारधाम यात्राः एक माह में 16 लाख से अधिक तीर्थयात्री उत्तराखंड पहुंच चुके

देहरादून,गढ़ संवेदना न्यूज। अन्य सालों के मुकाबले इस साल भारी संख्या में यात्री एवं श्रद्धालु चार धाम यात्रा पर आ रहे हैं। 1 माह में यात्रि...