Thursday, 12 November 2020

इंसानियत को किया शर्मशार, नवजात को जिंदा मिट्टी में दबाया

खटीमा। खटीमा में इंसानियत को शर्मशार कर देने वाली घटना सामने आई है तो वहीं इंसानियत का फर्ज निबाहने वाले भी मिल गए। चटिया फार्म गांव क्षेत्र के एक खेत में नवजात शिशु मिला जिसे मिट्टी में दबाया गया था। यह देखकर वहां लोगों की भीड़ लग गई लेकिन कोई उसे हाथ लगाने को तैयार नहीं था। तब वहां पहुंचे कुंदन भंडारी से यह देखा नहीं गया।
मौके पर मौजूद लोगों ने पुलिस को फोन कर दिया था और इंतजार कर रहे थे। कुंदन भंडारी ने बच्चे को उठाया और कहा कि जो होगा देखा जाएगा। अभी तो बच्चे की जान बचाने की कोशिश करनी है।
नवजात के मुंह में और नाक में मिट्टी चली गई थी। कुंदन उसे यथासंभव साफ कर अस्पताल की ओर चले। रास्ते में 108 एंबुलेंस मिल गई जिसे उन्होंने बच्चे को सौंप दिया। नवजात को सिविल अस्पताल लाया गया और वहां उसकी देखरेख की जा रही है। अस्पताल प्रशासन अभी इस मामले में कुछ भी कहने से बच रहा है। पुलिस मौके पर मौजूद लोगों से पूछताछ कर रही है और मामले की जांच कर रही है।


Featured Post

चारधाम यात्राः एक माह में 16 लाख से अधिक तीर्थयात्री उत्तराखंड पहुंच चुके

देहरादून,गढ़ संवेदना न्यूज। अन्य सालों के मुकाबले इस साल भारी संख्या में यात्री एवं श्रद्धालु चार धाम यात्रा पर आ रहे हैं। 1 माह में यात्रि...