Saturday, 7 November 2020

शहीदों की स्मृति में बने स्मारकों से छेड़ा गया तो होगा उग्र आंदोलनः यूकेडी

देहरादून। उत्तराखंड क्रान्ति दल द्वारा सरकार की स्मारकों को तोड़ने व ध्वस्त करने की नीति का लगातार विरोध करता आ रहा है। साथ ही सरकार को दल आगाह कर चुका है कि अब किसी भी स्थान जहाँ हमारे शहीदों की स्मृति में स्मारक बने है उनको छेड़ा गया तो सरकार के खिलाफ दल उग्र होगा।
        यूकेडी के केंद्रीय प्रवक्ता सुनील ध्यानी ने कहा कि उत्तराखंड क्रान्ति दल का सरकार को स्पष्ट चेतावनी है कि राज्य का स्थापना दिवस 9 नवम्बर आ रहा है। खुद मुख्यमंत्री, मंत्री या फिर कोई विधायक कचहरी परिसर में आता है तब तक दल नहीं आयेगा, जब तक सरकार घोषणा करें कि कचहरी परिसर स्तिथ शहीद स्मारक को को नहीं तोड़ा या ध्वस्त नहीं किया जायेगा। तभी मुख्यमंत्री से लेकर उनके नुमाइंदे, मंत्री विधायक शहीद स्मारक में घुस सकते हंै। दल इनको टैब तक घुसने नहीं देगा। व स्मारक स्थल पर इनका घोर विरोध करेगा।


Featured Post

सीएम ने कारगिल शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गांधी पार्क, देहरादून में शौर्य दिवस के अवसर पर शहीद स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित कर कारगिल शहीदों...