शहीदों की स्मृति में बने स्मारकों से छेड़ा गया तो होगा उग्र आंदोलनः यूकेडी

देहरादून। उत्तराखंड क्रान्ति दल द्वारा सरकार की स्मारकों को तोड़ने व ध्वस्त करने की नीति का लगातार विरोध करता आ रहा है। साथ ही सरकार को दल आगाह कर चुका है कि अब किसी भी स्थान जहाँ हमारे शहीदों की स्मृति में स्मारक बने है उनको छेड़ा गया तो सरकार के खिलाफ दल उग्र होगा।
        यूकेडी के केंद्रीय प्रवक्ता सुनील ध्यानी ने कहा कि उत्तराखंड क्रान्ति दल का सरकार को स्पष्ट चेतावनी है कि राज्य का स्थापना दिवस 9 नवम्बर आ रहा है। खुद मुख्यमंत्री, मंत्री या फिर कोई विधायक कचहरी परिसर में आता है तब तक दल नहीं आयेगा, जब तक सरकार घोषणा करें कि कचहरी परिसर स्तिथ शहीद स्मारक को को नहीं तोड़ा या ध्वस्त नहीं किया जायेगा। तभी मुख्यमंत्री से लेकर उनके नुमाइंदे, मंत्री विधायक शहीद स्मारक में घुस सकते हंै। दल इनको टैब तक घुसने नहीं देगा। व स्मारक स्थल पर इनका घोर विरोध करेगा।


Featured Post

चौबट्टाखाल के लोगों को मदद करने के लिए उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी ने शुरू की अनोखी पहल

सतपुली/देहरादून। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के चैबट्टाखाल संयोजक चंद्रशेखर नेगी ने लोगों को मदद करने के लिए अनोखी पहल की शुरुआत की। पूर्व ...