लाइव क्लासेस के उपयोग की समयावधि में 10 गुना बढ़ोतरी

देहरादूना। कोविड-19 के बड़े पैमाने पर फैलने की वजह से पढ़ाई-लिखाई में आई बाधाओं के चलते शिक्षा व्यवस्था में भी बड़ा बदलाव आया है और अब शिक्षा का माध्यम ऑफलाइन के बजाय ऑनलाइन हो गया है। भारत में एडुटेक जगत के प्रमुख संस्थान तथा प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कराने वाले देश के अग्रणी संस्थान, आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड की सहायक कंपनी, मेरिटनेशन ने उत्तराखंड के देहरादून शहर से अपने पेड यूजर्स, यानी सेवाओं के इस्तेमाल के लिए भुगतान करने वाले उपयोगकर्ताओं की संख्या में शानदार वृद्धि दर्ज की है। मेरिटनेशन ने हाल के महीनों में इस शहर में लाइव क्लासेस में भाग लेने वाले प्रीमियम यूजर्स द्वारा उपयोग के मिनटों में 10 गुना बढ़ोतरी दर्ज की है। गणित और विज्ञान विषयों के लाइव क्लासेज के उपयोग में क्रमशः 6 गुना और 12 गुना की जबरदस्त वृद्धि दर्ज की गई है। लॉकडाउन की शुरुआत में प्रीमियम यूजर्स द्वारा इस प्लेटफॉर्म के उपयोग तथा हाल के महीनों में प्रीमियम यूजर्स द्वारा उपयोग के आंकड़ों की तुलना के आधार पर, उपयोग में प्रतिशत वृद्धि की गणना की गई है। आंकड़ों के अनुसार, 10वीं कक्षा के छात्रों ने इस विकास में शानदार योगदान दिया है, जबकि 6 से 12 कक्षा के छात्रों के बीच इस प्लेटफार्म के उपयोग में लगातार बढ़ोतरी की प्रवृत्ति देखी गई। इस शानदार प्रगति पर टिप्पणी करते हुए नरसिम्हा जयकुमार, सीईओ, आकाश एडुटेक प्राइवेट लिमिटेड, ने कहा ’मार्च 2020 के बाद से कोविड-19 के बड़े पैमाने पर फैलने की वजह से ऑनलाइन लर्निंग अब पढ़ाई का नया तरीका बन चुका है

Featured Post

चौबट्टाखाल के लोगों को मदद करने के लिए उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी ने शुरू की अनोखी पहल

सतपुली/देहरादून। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के चैबट्टाखाल संयोजक चंद्रशेखर नेगी ने लोगों को मदद करने के लिए अनोखी पहल की शुरुआत की। पूर्व ...