डीएम ने त्यूणी में सुनीं जनसमस्याएं, 40 में से 18 शिकायतों का मौके पर किया निस्तारण

देहरादून। जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव नेे 03 दिवसीय शीतकालीन भ्रमण कार्यक्रम के प्रथम दिवस में आज ग्राम मैन्द्रथ (त्यूनी) में विभागीय अधिकारियों के साथ स्थानीय ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं। सुनवाई के दौरान 40 शिकायतें प्राप्त हुई जिनमें 18 शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण किया गया तथा शेष 22 शिकायतों को सम्बन्धित विभागों को 15 दिन में निस्तारण के निर्देश के साथ हस्तांतरित किया गया। इस अवसर पर अधिकतर शिकायतें लोनिवि, पीएमजीएसवाई, सिंचाई, वन विभाग, आंगनबाड़ी, स्वास्थ्य विभाग से सम्बन्धित प्राप्त हुई। इससे पूर्व जिलाधिकारी जब अपने भ्रमण के दौरान मैन्द्रथ ग्राम पंहुचने पर क्षेत्रवासियों द्वारा उनका भव्य स्वागत किया गया, उन्होंने भी लोगों का अभिवादन स्वीकार करते हुए सरकार जनता के द्वार कार्यक्रम के तहत् क्षेत्रीय ग्रामीणों द्वारा उठाई गई समस्याओं का समाधान तीव्र गति से कराए जाने का भरोसा दिलाया। जिलाधिकारी ने समस्त विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि समय-समय पर क्षेत्र का भ्रमण कर क्षेत्रवासियों की विभिन्न समस्याओं को सुने तथा उनकी शिकायतों को बिना किसी लाग-लपेट के मौके पर अथवा तहसील स्तर पर ही निर्धारित समय-सीमा के भीतर निस्तारण करवाना सुनिश्चित किया जाए, यदि किसी शिकायत का जिला मुख्यालय अथवा शासन स्तर पर ही निस्तारण सम्भव है तो ऐसी शिकायते प्राप्त होते ही उचित माध्यम से संज्ञान हेतु प्रेषित कर दी जांए। जनसुनवाई में क्षेत्रवासियों ने जिलाधिकारी से कहा कि क्षेत्र में काटगांव में एक चिकित्सालय है जिसमें डिजीटल एक्स-रे मशीन, एम्बुलेस, उपकरण आदि सुविधा न होने के कारण 150 किमी दूरी तय करके विकासनगर जाना पड़ता है। क्षेत्रवासियों द्वारा उक्त चिकित्सालय में उपकरण एवं एम्बुलेस स्थापित करने की मांग जिलाधिकारी से की गई, जिस पर जिलाधिकारी ने चिकित्सालय के लिए एम्बुलेस की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए क्षेत्रवासियों की चिकित्सालय में उपकरण स्थापित करने की मागं पर कार्यवाही का आश्वासन क्षेत्रवासियों को दिया। स्थानीय क्षेत्रवासियों ने कहा कि क्षेत्र के मैन्द्रथ, कांडा, सहित समस्त क्षेत्रों में अनेक रमणीक स्थल है, जिनकों ग्रामीण पर्यटन से जोड़े जाने हेतु होम स्टे योजना का लाभ दिया जाए, जिस पर जिलाधिकारी ने जिला पर्यटन अधिकारी को तत्काल आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। जनसुनवाई के दौरान स्थानीय प्यूनल गावं निवासी एक दिव्यांग मुकबधिर बालक की पेंशन न लग पाने का प्रकरण संज्ञान में आने पर जिलाधिकारी ने समाज कल्याण विभाग के अधिकारी को तत्काल आवश्यक कार्यवाही करते हुए पात्र को लाभान्वित करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी द्वारा इस दौरान हनोल मन्दिर एवं लाखामण्डल के भी दर्शन किए, साथ ही जिलाधिकारी ने डेरी विकास विभाग द्वारा संचालित ग्रोथ सेन्टर जिसमें छुरपी का उत्पादन होता है का भी निरीक्षण किया।इस अवसर पर उप जिलाधकारी संगीता कन्नौजिया, अधिशासी अभियन्ता लोनिवि चकराता मकान सिंह, सिंचाई पी. के उनियाल, उर्जा निगम से अशोक कुुमार एवं चकराता ब्लाक प्रधान के सचिव हरीश राजगुरू, मैन्द्रथ ग्राम प्रधान रमेश डोभाल, कांडा ग्राम प्रधान तेजपाल सिंह राणा, क्षेत्र पंचायत रमेश कुमार, अशोक प्रधान रड़ू, वजीर महासू मन्दिर दिवान सिंह राणा, पूर्व प्रधान दिनेश चैहान सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी एवं क्षेत्रवासी उपस्थित थे।

Featured Post

खाई में गिरी कार, दंपति की मौत

पौड़ी। पौड़ी देवप्रयाग मार्ग पर कुंडाधार के समीप मंगलवार सुबह एक कार अनियंत्रित होकर गहरी खाई में जा गिरी। इस हादसे में पति-पत्नी की दर्दनाक...