चुनाव जीतने का कोई मंत्र नहीं, तुष्टिकरण छोड़े हरीशः भगत

देहरादून। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा की चुनाव जीतने के लिए किसी गुरु मंत्र की जरुरत नहीं होती बल्कि इसके लिए परिश्रम, आम जनता के बीच जाकर विकास और झूठ से बचने की आवश्यकता होती है। उपवास के बजाए पश्चाताप पर हरीश रावत के कटाक्ष पर उन्होंने कहा की वह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता की राय का सम्मान करते हंै कि उन्हें कांग्रेस में प्रिंसिपल के लिए कोई उपयुक्त नेता नहीं मिला। उन्होंने कहा की वह 3 बार नैनीताल, एक बार हल्द्वानी और वर्तमान में कालाढूंगी से विधायक चुने गए। उन्हें जनता ने विकास की बदौलत वोट किया और जनता परखने के बाद मत देती है। उन्होंने कहा की रावत तुष्टिकरण और फरेब की राजनीति छोड़े तो विजय उन्हें भी मिलेगी। गौरतलब है कि हरीश रावत के प्रस्तावित उपवास पर विगत दिनों बीजेपी अध्यक्ष ने रावत को अपने कार्यकाल में हुए भ्रष्टाचार पर पश्चाताप करने की सलाह दी थी।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

शिक्षा अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने को एसएसपी को भेजा पत्र, DG शिक्षा से की विभागीय कार्रवाई की मांग