जीरो टाॅलरेंस का दवा करने वाली सरकार में विकास प्राधिकरण भ्रष्टाचार के अड्डे बन गएः इंदिरा

देहरादून। विधानसभा सत्र के लिए विपक्ष ने कमर कस ली है। नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश का कहना है भले ही मुख्यमंत्री कोरोना संक्रमित हो गए हों लेकिन हाउस में जवाब तो देना ही होगा। जवाब चाहे पार्लियामेंट्री अफेयर्स मिनिस्टर दें या विभागों के मंत्री। इसके साथ ही इंदिरा हृदयेश ने सीएम के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा है कि इस बार विपक्ष के पास कई मुद्दे हैं, जिनसे सरकार से जवाब लेना है। खासकर किसानों की फसल को खरीदने के बाद भी उन्हें उनका मूल्य नहीं दिया गया है। इसके अलावा जीरो टॉलरेंस का खोखला दावा करने वाली सरकार में विकास प्राधिकरण भ्रष्टाचार के अड्डे बन गए हैं। खुद मुख्यमंत्री स्टिंग में फंसे हैं। बेरोजगारी, महंगाई सहित तमाम ऐसे मुद्दे हैं, जिनको लेकर सरकार से सवाल पूछे जाएंगे। उन्होंने कहा कि एससी, एसटी छात्रों की छात्रवृत्ति घोटाले में भी एसआईटी जांच की गई है। अभी तक दोषियों को सजा नहीं हुई है। इसके साथ ही सरकार को छात्रवृत्ति घोटाले का भी जवाब देना होगा। इंदिरा हृदयेश ने मुख्यमंत्री के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है।

Featured Post

चौबट्टाखाल के लोगों को मदद करने के लिए उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी ने शुरू की अनोखी पहल

सतपुली/देहरादून। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के चैबट्टाखाल संयोजक चंद्रशेखर नेगी ने लोगों को मदद करने के लिए अनोखी पहल की शुरुआत की। पूर्व ...