Friday, 11 December 2020

आरबीएल बैंक और आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस ने किया बैंकाश्योरेंस पार्टनरशिप

देहरादून। आरबीएल बैंक और आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस ने बैंक के ग्राहकों को जीवन बीमा उत्पादों की एक श्रृंखला की पेशकश करने के लिए एक साझेदारी साझेदारी में प्रवेश किया है। यह गठजोड़ आरबीएल बैंक के 8.7 मिलियन से अधिक ग्राहकों को कंपनी के ग्राहक-केंद्रित संरक्षण और दीर्घकालिक बचत उत्पादों तक पहुंचने और निर्बाध रूप से खरीद करने में सक्षम करेगा और स्वयं और उनके परिवारों को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करेगा। आरबीएल बैंक आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ के उत्पादों को 28 राज्यों में फैली 398 शाखाओं के नेटवर्क के माध्यम से वितरित करेगा, इसके अलावा यह इंटरनेट और मोबाइल बैंकिंग टच-पॉइंट्स भी है, जो बैंक के मल्टी-चैनल वितरण नेटवर्क को अलग करते हैं। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ के लिए, साझेदारी अपने मल्टी-चैनल वितरण नेटवर्क को और मजबूत करेगी। इस टाई-अप के माध्यम से, आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ की बीमा योजनाओं का संपूर्ण गुलदस्ता संरक्षण और बचत मंच पर बैंक के ग्राहकों को खरीदने के लिए उपलब्ध होगा। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस के सुरक्षा उत्पाद वित्तीय योजना के लिए एक मजबूत आधार प्रदान करते हैं और लंबी अवधि के बचत उत्पादों की विविध रेंज से बैंक के एसकस्टमर्स को अपने वित्तीय लक्ष्य हासिल करने में मदद मिलेगी, चाहे वह धन सृजन हो, सेवानिवृत्ति योजना या बच्चों की उच्च शिक्षा। इसके साथ ही, साझेदारी जीवन बीमा कवर के माध्यम से ग्राहक के परिवार को वित्तीय सुरक्षा जाल भी प्रदान करेगी। आरबीएल बैंक के एमडी और सीईओ विश्ववीर आहूजा ने कहा, ‘‘हम आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ के साथ साझेदारी कर खुश हैं और भरोसा है कि यह रणनीतिक गठबंधन हमारे दोनों संगठनों के लिए मूल्य निर्माण को गति देगा। एक बैंक के रूप में, हम लगातार अपने ग्राहकों की बढ़ती जरूरतों को पूरा करने और यह सुनिश्चित करने पर ध्यान केंद्रित करते हैं कि उनके पास समग्र सेवा का अनुभव है। यह सहयोग हमारे ग्राहकों को उत्पादों के व्यापक सूट से चुनने और वित्तीय रूप से सुरक्षित भविष्य के लिए योजना बनाने का अधिकार देता है।

Featured Post

देहरादून और विकासनगर के चाय बागानों की 5500 बीघा जमीन सीलिंग एक्ट के तहत सरकारी

देहरादून। चाय बागान की जमीन को लेकर अब एक नया मोड़ आ गया है। इस मामले में खुलासा हुआ है कि देहरादून ही नहीं विकासनगर तक सीलिंग की 5500 ...