सीएम ने किया कोविड-19 टीकाकरण अभियान का शुभारम्भ

देहरादून। विश्व के सबसे बडे टीकाकरण अभियान का शुभारम्भ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा वर्चुअल माध्यम से प्रातः 10ः30 बजे किया गया। प्रधानमंत्री द्वारा वैक्सीनेशन के शुभारम्भ के साथ ही उत्तराखण्ड में भी मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत द्वारा भी दून मेडिकल कॉलेज, देहरादून से टीकाकरण का औपचारिक शुभारम्भ किया गया। कोविड वैक्सीन लगाए जाने की व्यापक तैयारियों के बाद आज मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र प्रातः 10ः15 बजे दून मेडिकल कॉलेज के ओ0पी0डी0 हॉल में पहुंचे जहाँ पर उन्होने प्रधानमंत्री के वर्चुअल शुभारम्म कार्यकरम को देखा। प्रधानमन्त्री के राष्ट्र को संबोधन के साथ ही मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र द्वारा दून मेडिकल कॉलेज में टीकाकरण सत्र का शुभारम्भ किया गया। पहला टीका दून मेडिकल कॉलेज के वार्ड बॉय शैलेन्द्र द्विवेदी तथा दूसरा टीका मेडिकल कॉलेज के छाती एवं टी0वी0 रोग के विभागाध्यक्ष एवं कोविड प्रभारी डॉ0 अनुराग अग्रवाल को दिया गया। मीडिया को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा विश्व का सबसे बडा टीकाकरण अभियान शुरू किया गया है और यह कोरोना महामारी को काफी हद तक नियंत्रित करने में सफल होगा। मुख्यमंत्री ने आमजन से अपील की कि वह टीकाकरण के बारे में किसी प्रकार के भ्रामक प्रचार तथा अफवाहों पर ध्यान न दें क्योंकि यह वैक्सीन पूर्णतः सुरक्षित है और देश को महामारी से बचाने का एक कारगर उपाय है। मुख्यमंत्री ने यह भी अपील की कि टीकाकरण के साथ-साथ हमें कोविड से बचाव के उपायों पर निरन्तर अमल करना होगा क्योंकि “दवाई भी एवं कढाई भी के मूल मंत्र को अपनाने से ही हम पूर्णतः सुरक्षित रह सकते हैं। इस अवसर पर नगर निगम देहरादून के मेयर सुनील उनियाल गामा, विधायक खजानदास, स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी, प्रभारी सचिव डॉ० पंकज कुमार पाण्डेय, स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ० अमिता उप्रेती, मेडिकल यूनिवर्सिटी के वाइस चान्सलर डॉ0 हेमचन्द्र पाण्डेय, निदेशक डॉ० तृप्ति बहुगुणा, डॉ० सरोज नैथानी, मेडिकल कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ. आशुतोष सयाना एवं स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे। उत्तराखण्ड में कोविड-19 वैक्सीनेशन के शुभारम्भ के प्रथम दिन की प्रगति के बारे में जानकारी देते हुए राज्य नोडल अधिकारी एवं मिशन निदेशक एन०एच०एम० सोनिका ने बताया कि आज 34 चिकित्सालयों पर टीकाकरण सत्र आयोजित किए गए जहां पर 3178 हैल्थ केयर वर्कर्स को टीकाकरण किया जाना था जिसके सापेक्ष 5ः00 बजे, सत्र के समाप्त होने तक 2226 हेल्थ केयर वर्कर्स को टीके लगाए गए जो निर्धारित लक्ष्य का 70 प्रतिशत है। मिशन निदेशक सोनिका ने बताया कि हैल्थ केयर वर्कर्स को वैक्सीन लगने के प्रथम दिन सभी कोविड अस्पतालों में भी टीकाकरण सत्र आयोजित गए हैं जिनके अन्तर्गत 2 प्राईवेट अस्पताल कमशः हिमालयन अस्पताल, जौलीग्रान्ट एवं गुरुरामराय अस्पताल, देहरादून में भी वैक्सीनेशन का कार्य किया गया। कोविड वैक्सीन के टीकाकरण अभियान की निगरानी एवं पर्यवेक्षण के लिए राज्य कन्ट्रोल रूम द्वारा आज प्रातः 8ः00 बजे से ही कार्य करना शुरू कर दिया था। राज्य कन्ट्रोल रूम के चीफ ऑपरेशन आफीसर डॉ० अभिषेक त्रिपाठी के अनुसार सभी 34 अस्पतालों पर टीकाकरण सत्र निर्धारित समय से आरम्म हो गए थे और हैल्थ केयर वर्कर्स को कोविन पोर्टल पर किए पंजीकरण के अनुसार भेजे गए सदेश के क्रम में टीकाकरण किया गया। डॉ0 त्रिपाठी ने बताया कि वैक्सीनेशन अभियान पूर्णतः भारत सरकार की ऑपरेशनल गाईड लाईन के अनुसार संचालित किया गया तथा अभियान की ट्रेकिंग टीकाकरण सत्र से लेकर भारत सरकार के स्तर तक की निरन्तर गई।

Featured Post

चौबट्टाखाल के लोगों को मदद करने के लिए उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी ने शुरू की अनोखी पहल

सतपुली/देहरादून। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के चैबट्टाखाल संयोजक चंद्रशेखर नेगी ने लोगों को मदद करने के लिए अनोखी पहल की शुरुआत की। पूर्व ...