60 लाख फास्टैग के साथ पेटीएम पेमेंट्स बैंक बाजार में अग्रणी

देहरादून। भारत के घरेलू पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड (पीपीबीएल) ने आज घोषणा की है कि यह 60 लाख से अधिक फास्टैग के साथ देश में फास्टैग का अग्रणी बना हुआ है। सरकार द्वारा फास्टैग की समयसीमा बढाए जाने की वजह से अधिक से अधिक नागरिक पेटीएम पेमेंट्स बैंक की फास्टैग सुविधा को अपना रहे हैं प् पेटीएम फस्टैग को अपनी सहज ऑनबोर्डिंग और इंटीग्रेशन प्रक्रिया के कारण देश में उपयोगकर्ताओं के बीच लोकप्रियता हासिल हुई है जिसके लिए न्यूनतम डॉक्यूमेंटेशन, तत्काल एक्टिवेशन और बेजोड़ कस्टमर केयर सपोर्ट की आवश्यकता होती है। पी पी बी एल ने अब देश के 250 प्लाजा में कैशलेस टोल भुगतान को सक्षम कर दिया है। पेटीएम फास्टैग देश का सबसे पसंदीदा टोल भुगतान तरीका बन गया है क्योंकि यह उपयोगकर्ताओं को सीधे पेटीएम वॉलेट से भुगतान करने की सुविधा देता है। उपयोगकर्ताओं को अपने फास्टैग को रिचार्ज करने के लिए कोई अलग खाता बनाने या कोई वॉलेट डाउनलोड करने की आवश्यकता नहीं है। अन्य बैंकों द्वारा जारी किए गए टैग में खरीदारों को आईडी प्रूफ, फोटोग्राफ, पर्सनल डिटेल्स शेयर करने और अलग-अलग खाते बनाए रखने जैसे कई कार्यों की आवश्यकता होती है। इसके अलावा, अन्य बैंकों के टैग के विपरीत जिन्हें सक्रिय होने में कुछ घंटों की आवश्यकता हो सकती है, पेटीएम फास्टैग उपयोगकर्ताओं को इसे प्राप्त करने के क्षण से तुरंत सक्रिय हो जाते हैं सभी फास्टैग लेनदेन पर पेटीएम ऐप से नजर रखी जा सकती है। उपयोगकर्ता ऐप पर ही शिकायतें उठा सकते हैं जिसे एड्रेस करती कस्टमर सपोर्ट टीम 24ग7 काम करती है। सतीश गुप्ता, एमडी और सीईओ-पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड ने कहा “हमारी कोशिश है की जिस तरह हमारा ऐप उपभोगताओं के दैनिक जीवन को सहज एवं सुगम बनाता है, उसी प्रकार सड़क यातायात को भी हम सुविधाजनक बनाएं।

Featured Post

चौबट्टाखाल के लोगों को मदद करने के लिए उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी ने शुरू की अनोखी पहल

सतपुली/देहरादून। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के चैबट्टाखाल संयोजक चंद्रशेखर नेगी ने लोगों को मदद करने के लिए अनोखी पहल की शुरुआत की। पूर्व ...