घास काटने गई महिला को गुलदार ने मौत के घाट उतारा

पिथौरागढ़। देवलथल क्षेत्र में आदमखोर गुलदार ने घास काटने गई एक और महिला को मौत के घाट उतार दिया। गुलदार के आतंक से क्षेत्र में दहशत है। घटना सोमवार अपराह्न करीब तीन बजे की है, आगर गांव के जंगल में महिला जब बकरी को बचाने दौड़ी तो महिला को देख आदमखोर हमलावर हो गया। क्षेत्र में सवा महीने के भीतर गुलदार ने तीन महिलाओं को मौत के घाट उतार डाला और दो महिलाओं को गंभीर रूप से घायल कर दिया है। घटनाक्रम के अनुसार देवलथल से लगे आगर गांव निवासी सीमा देवी (40) पत्नी शंकर राम सोमवार सुबह बकरियों को लेकर घास काटने जंगल गई थी। तभी गुलदार ने बकरी पर हमला कर दिया। सीमा बकरी को गुलदार के चंगुल से छुड़ाने उसके पीछे दौड़ी, जिससे बौखलाए गुलदार ने पलटकर सीमा पर ही हमला कर दिया। चीख-पुकार सुनकर कुछ दूरी पर घास काट रहीं महिलाएं घटनास्थल की तरफ दौड़ी और पत्थरों से हमला कर गुलदार भगा दिया। लेकिन तब तक गंभीर रूप से जख्मी सीमा ने दम तोड़ दिया। ग्रामीणों की सूचना पर वन विभाग और पुलिस टीम मौके पर पहुंची। पुलिस ने पंचनामा भर शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेजा। सीमा के चार बच्चे हैं, जबकि पति 12 साल से लापता बताया जा रहा है।

Featured Post

चौबट्टाखाल के लोगों को मदद करने के लिए उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी ने शुरू की अनोखी पहल

सतपुली/देहरादून। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के चैबट्टाखाल संयोजक चंद्रशेखर नेगी ने लोगों को मदद करने के लिए अनोखी पहल की शुरुआत की। पूर्व ...