Wednesday, 27 January 2021

मोटर मार्ग की मांग नहीं हो पाई पूरी तो ग्रामीणों खुद उठाया बीड़ा

गैरसैंण। दो दशक से एक अदद मोटर सड़क की मांग कर रहे ग्रामीणों का अंततः आज धैर्य जवाब दे गया। 12 वर्ष पूर्व स्वीकृत इस मार्ग को वित्तीय स्वीकृति के लिए हर सम्भव दरवाजे पर दस्तक देने के बाबजूद ग्रामीणों के हाथ कुछ भी नहीं लग सका। ऐसे में ग्रामीणों ने स्वयं सड़क निर्माण का फैसला लेते हुए तीन सप्ताह पूर्व सरकार व प्रशासन को प्रस्तावित आंदोलन से अवगत किया किन्तु इस चेतावनी पर भी ग्रामीणों को कोई जबाब नहीं मिला। आज घोषित कार्यक्रम के अनुरूप प्रातः ही ग्रामीण फावड़े, कुदाल के साथ सडक निर्माण में जुट गए हैं। ग्रामीणों के इस आंदोलन में खनसर घाटी के तमाम पंचायत प्रतिनिधि समर्थन देने पहुचे हैं। गैरसैंण ब्लॉक के खनसर घाटी में स्थित ग्राम पंचायत कालीमाटी, सेरा व तेवाखर्क के ग्रामीण लम्बे समय से मोटर सड़क की मांग कर रहे हैं। वर्ष 2008में तत्कालीन सरकार ने 3 किमी सड़क को स्वीकृति प्रदान की। जिस पर कार्यदायी संस्था लोक निर्माण विभाग ने सड़क का समरेखन कर वन विभाग के साथ प्रस्तावित सड़क में आने वाले वृक्षों की पातन प्रक्रिया पूरी की, किन्तु आश्वासनों के बीच लम्बी इंतजारी के वाबजूद कोई कार्यवाही नही होता देख गत वर्ष 27 फरवरी को खनसर घाटी के निवासियों ने तहशील मुख्यालय पर जोरदार प्रदर्शन कर गैरमियादी भूख हड़ताल शुरु की। मामले में क्षेत्र के विधायक सुरेंद्र सिंह नेगी ने ग्रामीणों से वार्ता कर 3 माह का समय लेते हुए निर्माण शुरु किये जाने का लिखित आश्वासन दिया लेकिन 10 माह बाद भी एक इंच सड़क नहीं बन सकी। सरकार की खामोसी को ग्रामीणों की उपेक्षा बताते हुए 4 जनवरी को ग्रामीणों ने गैरसैंण के एसडीएम, थाना प्रभारी, लिनीवि अधिशासी अभियंता सहित विधायक व मुख्यमंत्री को 25 जनवरी तक स्वीकृत मार्ग पर कार्य सुरु किये जाने की मांग की। प्रेषित पत्र में तय समय पर सड़क निर्माण सुरु नहीं किये जाने पर श्रमदान कर सड़क खोदने व आसन की चेतावनी दी, जिस पर गणतंत्र दिवस पर ग्रामीणों ने ध्वजारोहण कर भूमिपूजन के पश्चात सड़क खुदाई सुरु कर दी। इस मौके पर संघर्ष समिति अध्य्क्ष दयाल सिंह, प्रधान हेमा बिष्ट, उपाध्यक्ष कुँवर राम, सचिव हुक्म सिंह, महिला मंगल दल अध्य्क्ष रिंकी देवी सहित तीनों ग्राम पंचायत के महिला, पुरुष व बच्चे श्रमदान में जुट गए हैं। ग्रामीणों की हौसला अफजाई के लिए ब्लॉक प्रधान संघ अध्य्क्ष पान सिंह, प्रधान मलकोट प्रियंका देवली, प्रधान मेहलचोरी बलवीर महेरा, प्रधान कालीमाटी अनीता देवी, प्रधान कंदरीकोड मनोहर कोठियाल, प्रधान देवपुरी महेंद्र सिंह, प्रधान जलचैरा धनपा देवी, कुसरानी प्रधान अम्बी देवी, उत्तरी झुमाखेत प्रधान गुड़ी देवी, कोलानी प्रधान राधा देवी, कलियानी प्रधान मुकेश कंडारी, प्रधान दयान सिंह, प्रधान मुसों गोवर्धन, प्रधान कोट दिनेश सिंह, क्षेत्र पंचायत सदस्य रजनी देवी, टेक्सी यूनियन अध्य्क्ष दान सिंह, पूर्व प्रधान मलकोट सेन सिंह, जिला पंचायत सदस्य अवतार पुंडीर आदि मौके पर पहुंचे।

Featured Post

तीरथ सरकार 100 दिन बेकार को लेकर आप कार्यकर्ता उतरे सड़कों पर

देहरादून। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के 100 दिनों के असफल कार्यकाल को लेकर आज आम आदमी पार्टी ने प्रदेश की सभी 70 विधानसभा क्षेत्रों में ...