स्पीकर अग्रवाल ने कराया विशेष वार्षिक कैलेंडर का प्रकाशन

ऋषिकेश। विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने नववर्ष के उपलक्ष में विशेष वार्षिक कैलेंडर का प्रकाशन करवाया है। जिसको आज विभिन्न जनप्रतिनिधियों समाजसेवियों एवं व्यापारियों ने ऋषिकेश शहर के अंदर अनेक प्रतिष्ठानों में वितरित किए। इस वार्षिक कैलेंडर की खास बात यह है कि इसमें उत्तराखंड के सुप्रसिद्ध मंदिर, पर्यटक स्थल, राज्य के प्रतीक चिन्ह को प्रमुखता से दर्शाया गया है। इसके लिए स्थानीय व्यापारियों एवं जनप्रतिनिधि ने विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल जी का आभार व्यक्त किया। विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल के जनसंपर्क अधिकारी राजेश थपलियाल ने कहा है कि वार्षिक कैलेंडर का प्रकाशन जहां वर्ष भर के त्योहारों एवं छुट्टियों को दर्शाता है वही हरिद्वार महाकुंभ, बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री, महासू मंदिर हनोल, धारी देवी, नैना देवी, गोलू देवता आदि सहित विभिन्न धार्मिक मंदिरों के चित्र कैलेंडर में प्रकाशित किए गए हैं। कैलेंडर में तीर्थाटन एवं पर्यटन को भी बढ़ावा देने के लिए अनेक पर्यटक स्थलों का प्रकाशन किया गया है। उन्होंने कहा है कि वार्षिक कैलेंडर मैं राज्य पुष्प ब्रह्म कमल, राज्य पक्षी मोनाल, राज्य वृक्ष बुरास के चित्र भी आकर्षण का केंद्र है। इसके अलावा आईएमए देहरादून, एफआरआई देहरादून, जानकी सेतु ऋषिकेश, एम्स ऋषिकेश, त्रिवेणी घाट में गंगा आरती के चित्र कैलेंडर में चार चांद लगा रहे हैं। साथ ही उत्तराखंड विधानसभा में वर्ष भर में आयोजित कार्यक्रमों, राष्ट्रीय पर्वो, महापुरुषों की जयन्ती के दौरान किए गए कार्यक्रमों का भी उल्लेख इस वार्षिक कैलेंडर में किया गया है। कैलेंडर वितरण के अवसर पर सरोज डिमरी, पार्षद शिव कुमार गौतम, पार्षद प्रदीप कोहली, पार्षद ऋषि कांत गुप्ता, सीमा रानी, राजीव नरसिंभा, संजीव पाल, मनोज कालरा, मनोज राजपूत, सुमित पवार, व्यापार मंडल के नवल कपूर, सौरभ अग्रवाल, रमेश अरोड़ा, अजय कालरा शिवम टुटेजा, राजेश कुमार, पुष्पा नेगी, उषा जोशी अमित वत्स, सचिन अग्रवाल, मनोज शर्मा ,सिमरन गाबा आदि बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

Featured Post

कोरोना महामारी के कारण दिवंगत हुए व्यापारियों के परिजनों को आर्थिक सहायता प्रदान करें सरकार, दून वैली महानगर उधोग व्यापार मंडल ने सीएम को भेजा ज्ञापन

देहरादून। दून वैली महानगर उधोग व्यापार मंडल ने कोरोना महामारी के कारण दिवंगत हुए व्यापारियों के परिजनों को तुरन्त आर्थिक सहायता प्रदान किए ज...