Thursday, 21 January 2021

डीएम ने गंगा सुरक्षा समिति व मिशन रिस्पना को लेकर ली बैठक

देहरादून। जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में वीडियोकान्फे्रसिंग के माध्यम से जिला गंगा सुरक्षा समिति व मिशन रिस्पना के सम्बन्ध में कैम्प कार्यालय से बैठक आयोजित की गई। जिलाधिकारी द्वारा गंगा सुरक्षा समिति से जुडे़ जल संस्थान, पेयजल निगम, एमडीडीए, नगर निगम, सिंचाई तथा वन विभाग को उनको आवंटित किए गए कार्य तेजी से पूरा करने तथा पिछली बैठक में विभिन्न कार्यों को दिए गए लक्ष्य की प्रगति की आख्या प्राप्त करते हुए जरूरी दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने सम्बन्धित विभागों को गंगा सुरक्षा से जुड़े पेयजल, सीवर संयोजन, नालों की टैपिंग, घाटों पर मिनिमम सुविधाओं के विकास तथा सौन्दर्यीकरण, सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट, कूड़ा निस्तारण इत्यादि के कार्यों की उचित गुणवत्ता और शीघ्रता से पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने पेयजल निगम की सर्वहारानगर-ऋषिकेश में 26 एमएलडी एसटीपी लाईन के कार्यों की प्रगति में अनिवार्य रूप से अगली बैठक में अधिकाधिक सुधार करने के निर्देश दिए। साथ ही अन्य स्थानों पर सीवर लाईन में आवश्यक सुधारीकरण के कार्यों को भी तेजी से पूरा करने को कहा। उन्होंने नगर निगम ऋषिकेश को अपने क्षेत्रान्तर्गत लगातार डोर-टू-डोर कूड़ा उठान करने तथा विभिन्न कूड़ा कलैक्शन प्वांइट्स से भी नियमित रूप से कूड़ा उठायें तथा शहर को स्वच्छ रखने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने रिस्पना के सम्बन्ध में कार्यों की समीक्षा करते हुए सिंचाई विभाग, सम्बन्धित उप जिलाधिकारी, पेयजल निगम, एमडीडीए आदि विभागों को संयुक्त निरीक्षण करते हुए रिस्पना नदी में विभिन्न समय के अनुसार पानी धारिता का अवलोकन करते हुए प्लान बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने नगर निगम देहरादून को रिस्पना नदी से सटी आबादी से उठने वाले कूड़े के उत्पन्न होने तथा लोगों द्वारा डोर-टू-डोर दिए जा रहे कूड़े का अवलोकन करते हुए कूड़े के निस्तारण का अग्रिम बेहतर प्लान बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने एमडीडीए को रिवरफ्रन्ट डेवलपमेन्ट से सम्बन्धित तथा वन विभाग को वृक्षरोपण इत्यादि से सम्बन्धित प्लान के बारे में विवरण प्राप्त करते हुए इस सम्बन्ध में प्रस्ताव तैयार करने को निर्देशित किया। और अन्त में जिलाधिकारी ने गंगा सुरक्षा समिति तथा रिस्पना पुनर्जीवन से जुडे़ विभागों को दिए गए कार्यों को समय से पूरा करने कार्यों से सम्बन्धित किसी भी प्रकार के प्रस्तावों को समय से प्रेषित करने के निर्देश दिए। इस दौरान बैठक में मुख्य विकास अधिकारी नितिका खण्डेलवाल, डीएफओ देहरादून राजीव धीमान व मसूरी कहकशांनसीन, जिला विकास अधिकारी सुशील मोहन डोभाल सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Featured Post

चारधाम यात्राः एक माह में 16 लाख से अधिक तीर्थयात्री उत्तराखंड पहुंच चुके

देहरादून,गढ़ संवेदना न्यूज। अन्य सालों के मुकाबले इस साल भारी संख्या में यात्री एवं श्रद्धालु चार धाम यात्रा पर आ रहे हैं। 1 माह में यात्रि...