डीएम ने लम्बित वादांे, राजस्व वसूली, पेंशन प्रकरणों की समीक्षा की

अल्मोड़ा। जिला कार्यालय सभागार में जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया की अध्यक्षता में मासिक बैठक आयोजित की गयी। बैठक में राजस्व वादो, सत्र न्यायालय एवं विभिन्न न्यायालयों मंे लम्बित वादो राजस्व वसूली, पेंशन प्रकरण समेत राजस्व विभाग के अन्तर्गत विभिन्न अधिष्ठानों की समीक्षा की गयी। उन्होंने निर्देश दिये कि राजस्व वाद निर्धारित समय के अन्तर्गत निस्तारित हो। जिलाधिकारी ने समस्त उपजिलारियों व तहसीलदारों को शीतकालीन क्षेत्र भ्रमण कर समस्याओं का समाधान करने के निर्देश दिये जिसकी रिर्पोट जिला कार्यालय में उपलब्ध कराने को कहा। जिलाधिकारी ने राजस्व क्षेत्र में होने वाले अपराध में कमी लाने हेतु आवश्यक ठोस कदम उठाने के निर्देश अधिकारियों को दिये। आबकारी विभाग को अवैध शराब के विरूद्व छापेमारी करने के निर्देश दिये। सम्भागीय परिवहन अधिकारी को ओवर लोडिंग, तेज रफ्तार, सीट बेल्ट, मोबाईल पर बात करने व शराब पीकर वाहन चालने वाले चालकों के विरूद्व कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिये। पूर्ति विभाग को दूरस्थ क्षेत्रों में खाद्यान्न भण्डारण व लोगो को समय से राशन उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने तहसीलवार बनाये जाने वाले प्रमाण-पत्रों को समय से आवेदनकर्ता को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। सी0एम0 हैल्प लाईन में प्राप्त शिकायतों को यथाशीघ्र निस्तारित करने के निर्देश दिये। खाद्य सुरक्षा विभाग को अधिक से अधिक सैम्पलिंग करने के निर्देश दिये। बैठक में जिलाधिकारी ने बर्ड फ्लू के रोकथाम एवं बचाव के संबंध में राजस्व एवं पशुपालन विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। बैठक में पशुपालन विभाग द्वारा बर्ड फ्लू के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी प्रस्तुत की गयी, बैठक में मुख्य पशुचिकित्साधिकारी डा0 रविन्द्र चन्द्र द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद में 11 रैपिंड रिस्पाॅन्स टीम का गठन कर दिया गया है एवं मुख्य पशुचिकित्साधिकारी कार्यालय अल्मोड़ा के दूरभाष नं0-05962-232289 में कन्ट्रोल रूम की स्थापना की गयी है। बैठक में जिलाधिकारी ने पशुपालन विभाग को बर्ड फ्लू की जागरूकता हेतु पोस्टर बनवाने के निर्देश दिए इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि सैम्पल प्रेषित करने अथवा बर्ड फ्लू होने की स्थिति में आवश्यक औषाधियों एवं अन्य सहायक सामग्रियों की व्यवस्था सुनिश्चित करें। इस बैठक में संयुक्त मजिस्ट्रेट रानीखेत अपूर्वा पाण्डे, उपजिलाधिकारी सीमा विश्वकर्मा, आर0के0 पाण्डे, मोनिका, गौरव पाण्डे, आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी, पुलिस उपाधीक्षक वीर सिंह, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी मनोहर लाल के अलावा समस्त तहसीलदार, पशुपालन विभाग के अधिकारी, विभागीय अधिकारी व पटल सहायक उपस्थित थे।

Featured Post

कोरोना महामारी के कारण दिवंगत हुए व्यापारियों के परिजनों को आर्थिक सहायता प्रदान करें सरकार, दून वैली महानगर उधोग व्यापार मंडल ने सीएम को भेजा ज्ञापन

देहरादून। दून वैली महानगर उधोग व्यापार मंडल ने कोरोना महामारी के कारण दिवंगत हुए व्यापारियों के परिजनों को तुरन्त आर्थिक सहायता प्रदान किए ज...