56 हजार करोड के कर्ज तले दबी सरकार को ब्याज चुकाने में छूट रहे पसीनेः मोर्चा

-प्रति वर्ष 4-4.50 हजार करोड़ बहाया जा रहा ब्याज चुकाने में -ब्याज की राशि चुकाने के लिए लिया जा रहा कर्ज पर कर्ज विकासनगर। जन संघर्ष मोर्चा अध्यक्ष एवं जीएमवीएन के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने कहा कि सरकार द्वारा लिए गए समस्त ऋण का महायोग वर्ष 2019-20 तक 49,847 करोड रुपए था, जोकि एक-डेढ़ माह यानि 31 मार्च 2021 तक बढ़कर 56,302 हजार करोड़ हो जाएगा। सरकार द्वारा उधार ली गई रकम का ब्याज 4- 4.50 हजार करोड़ चुकाना भी सरकार के लिए टेढ़ी खीर साबित हो रहा है तथा ब्याज चुकाने के लिए कर्ज पर कर्ज लिया जा रहा है द्य नेगी ने कहा कि दुर्भाग्य की बात है जो ऋण लिया जा रहा है उसका बड़ा हिस्सा माननीयों की मौज-मस्ती, पेंशन, सैर सपाटा तथा झूठे विज्ञापनों इत्यादि पर खर्च किया जा रहा है द्य जनता विकास की आस तथा बच्चों के भविष्यध् रोजगार की उम्मीद में दम तोड़ रही है। आलम यह है कि जो राजस्व सरकार को मिलना चाहिए था, वो राजस्व माफियाओं की सांठगांठ से इनकी जेबों में जा रहा है। नेगी ने कहा कि प्रदेश के बेरोजगार अपने रोजगार तथा आमजन अपनी मूलभूत सुविधाओं को लेकर चिंतित हैं, लेकिन सरकार सिर्फ और सिर्फ प्रदेश को दिवालिया बनाने पर तुली है। मोर्चा जनता से अपील करता है कि अपने हक के लिए लड़ें।

Featured Post

चौबट्टाखाल के लोगों को मदद करने के लिए उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी ने शुरू की अनोखी पहल

सतपुली/देहरादून। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के चैबट्टाखाल संयोजक चंद्रशेखर नेगी ने लोगों को मदद करने के लिए अनोखी पहल की शुरुआत की। पूर्व ...