Thursday, 4 February 2021

रूपान्तरण के कार्यक्रम में तेजी लायी जायः डीएम

अल्मोड़ा। जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया की अध्यक्षता में आज रूपान्तरण कार्यक्रम के अन्तर्गत विद्यालयों में मध्यान्ह् भोजन, सर्वशिक्षा, पुर्ननिर्माण व मरम्मत कार्यों को सम्पादित किये जाने के सम्बन्ध में बैठक सम्पन्न हुई। जिलाधिकारी ने कहा कि रूपान्तरण के कार्यक्रम में तेजी लायी जाय। उन्होंने कहा कि प्रत्येक विकासखण्ड के अन्तर्गत विभिन्न मदो में रूपान्तरण हेतु धनराशि आवंटित की गयी है उसका सदुपयोग करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्थाओं, जिला पंचायत, सिंचाई खण्ड व ग्रामीण निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्माण कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि जो विद्यालय रूपान्तरित हो जाते है उनकी फोटोग्राफ सहित उपयोगिता प्रमाण पत्र जिला कार्यालय को उपलब्ध करा दें। उन्होंने कहा कि 10 से कम छात्र संख्या वाले स्कूलों की सूची भी जिला कार्यालय को उपलब्ध करा दें तथा कम छात्र संख्या वाले विद्यालयांे के छात्रों को निकटतम विद्यालयों में समायोजित किया जाय। 10 से कम छात्र संख्या वाले स्कूलों को शासन के अनुमति के उपरान्त ही बन्द किया जा सकेगा। बैठक में उन्होंने कहा कि धनराशि आवंटित करने के बावजूद कई विद्यालयों में कार्य प्रारम्भ नहीं हुए है सम्बन्धित खण्ड शिक्षाधिकारी कार्यों को सत्र प्रारम्भ होने से पूर्व पूर्ण कराना सुनिश्चित करें जिससे कि अगले सत्र से कक्षाओं का विविधवत् संचालन किया जा सके। उन्होंने कहा कि रूपान्तरण के अन्तर्गत विद्यालयों को भौतिक संसाधन उपलब्ध कराने के लिए कई संस्थायें सीआरएस मद में पैसा दे रही है। अतः कार्यों को गुणवत्तापूर्ण व तेजी से कराना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने कहा कि इस कार्यक्रम में धनराशि की कोई कमी नहीं है इसलिए अधिकारी कार्यों में तेजी लायें। उन्होंने कहा कि कही पर कोई समस्या आने पर तकनीकी रिर्पोट को ध्यान में रखकर कार्य करें। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में हो रहे प्रत्येक निर्माण व सुदृढ़ीकरण की जानकारी खण्ड शिक्षाधिकारी के संज्ञान में होना अनिवार्य है। निर्माण कार्य में आ रही वृहद समस्यायें जो जिला स्तर पर निस्तारित नहीं हो सकती है को शासन को अग्रसारित करना सुनिश्चित करें। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी नवनीत पाण्डे, डिप्टी कलैक्टर गौरव पाण्डे, मुख्य शिक्षाधिकारी एच0बी0 चन्द, जिला शिक्षाधिकारी हरीश रौतेला, आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी के अलावा समस्त खण्ड शिक्षाधिकारी व कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारी उपस्थित थे।

Featured Post

A viable alternative to joint replacement: Dr. Gaurav Sanjay

Dehradun. India and International book records holder Dr. Gaurav Sanjay is well known young orthopaedic surgeon has presented a clinical s...