Wednesday, 17 February 2021

टेक होम राशन कुक्ड फूड के सत्यापन रिपोर्ट में गम्भीर अनियमितताएं सामने आईं

रुद्रपुर। जिलाधिकारी रंजना राजगुरू के निर्देशों के क्रम में नामित सत्यापन अधिकारियों संयुक्त मजिट्रेट उप जिलाधिकार, तहसीलदार खण्ड विकास अधिकारी एवं खण्ड शिक्षा अधिकारियों ने दिनांक 05 नवम्बर 2020 को अपने क्षेत्रान्तर्गत बाल विकास परियोजना के माध्यम से वितरित टेक होम राशनकुक्ड फूडध्ऊर्जा पोषाहारध्टी0एच0आर0 की मात्रा एवं गुणवत्ता से सम्बन्धित सत्यापन करते हुए अपनी सत्यापन सम्बन्धी रिर्पोट प्रस्तुत की गयी है। उन्होने बताया नामित सत्यापन अधिकारियों की सत्यापन रिपोर्ट में गम्भीर अनियमितता एवं प्रतिकूल तथ्य परिलक्षित हुए। उन्होने बताया सत्यापन अधिकारियों की सत्यापन रिपोर्ट का अवलोकनध्परीक्षण करने पर यह भी परिलक्षित हुआ है कि महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग के जिला स्तरीय अधिकारीध्नियंत्रक अधिकारी द्वारा अपने विभाग की इस महत्वपूर्ण योजना का अनुश्रवणध्पर्यवेक्षण का कार्य नियमित रूप से किया जाना चाहिए परन्तु अपने विभाग की उक्त महत्वपूर्ण योजना का अनुश्रवणध्पर्यवेक्षण का कार्य नियमित रूप से नही किया जा रहा है तथा अपने पदीय दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही बरती जा रही है। तथा यह भी निर्देशित किया था कि सम्बन्धित बाल विकास परियोजना अधिकारियों, सुपरवाईजरों, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को चिन्हित कर उनके विरूद्ध विभागीय कार्यवाही की संस्तुति करते हुए सुस्पष्ट प्रस्ताव मुख्य विकास अधिकरी उधमंिसह नगर के माध्यम से प्रस्तुत किया जाना था जो कि इनके द्वारा नही किया गया। उन्होने बताया कि सत्यापन अधिकारी की रिर्पोट का अवलोकनध्परीक्षण करने पर गम्भीर तथ्य परीलक्षित हुए है। जिलाधिकारी ने जिला कार्यक्रम अधिकारी उदय प्रताप सिंह को कठोर चेतावनी देते हुए कहा यदि निकट भविष्य में पुनः इस प्रकार का कोई प्रकरण परिलक्षित होगा तो उसे अत्यधिक गम्भीरता से लेते हुए कठोर विभागीय कार्यवाही हेतु इनके नियंत्रक अधिकारी निदेशक महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग, उत्तराखण्ड देहरादून को प्रतिकूल संस्तुति कर दी जायेगी जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी स्वयं की होगी। उन्होने जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देश दिए है कि किसी भी प्रकार की विभागीय समस्या दृष्टिगोचर होने पर सम्बन्धित तथ्य मुख्य विकास अधिकारी के संज्ञान में लाते हुए यथानिर्दिष्ट कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।

Featured Post

कोरोना काल के पश्चात राफ्टिंग का प्रारंभ होना बेहद सुखदः महाराज

ऋषिकेश। पर्यटन व्यवसाय से जुड़े 15 हजार लोगों को पर्यटन विभाग की ओर से अब तक 7 करोड़ की धनराशि वितरित की जा चुकी है। उक्त बात गंगा नदी राफ...