डीएम ने स्कूल के लिए चयनित भूमि निरीक्षण किया

अल्मोड़ा। मंगलदीप विद्या मंदिर विद्यालय हेतु राज्य सरकार द्वारा 0.04 हेक्टेयर भूमि निःशुल्क दिये जाने के उपरान्त जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने चयनित भूमि स्थलीय निरीक्षण किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि सुश्री मनोरमा जोशी द्वारा विगत कई वर्षों से दिव्यांग बच्चों हेतु स्वयं के संसाधनों से विद्यालय संचालित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यहाॅ पर स्कूल बनने के बाद दिव्यांग बच्चों को आने-जाने में होने वाली समस्याओं से निजात मिल जायेगा। जिलाधिकारी कहा कि वर्तमान में जिस स्थान पर विद्यालय संचालित हो रहा है वहां पर रोड की सुविधा ना होने के कारण बच्चों को स्कूल तक पहुंचने में काफी परेशानी हो रही थी। निरीक्षण के दौरान उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये कि इस सम्बन्ध में जो भी विभागीय औपाचारिकतायें की जानी है उन्हें तय समय अन्तर्गत पूर्ण कर लिया जाय ताकि भवन निर्माण का कार्य तय समय से शुरू हो सके। उन्होंने अधिशासी अभियन्ता लोनिवि को निर्देश दिये कि आगामी जिला योजना में स्कूल हेतु सड़क निर्माण, सुरक्षा दीवार बनाने के लिये धनराशि का प्रस्ताव प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने कहा कि हमें आपसी सहयोग से इस कार्य को सफल बनाना होगा। उन्होंने कहा कि विद्यालय निर्माण में जिला प्रशासन द्वारा जो भी सहयोग करना होगा उसके लिये जिला प्रशासन हमेशा तैयार रहेगा। इस दौरान वहां पर रही गन्दगी को देखकर जिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारी नगरपालिका को निर्देश दिये कि वे एक वृहद सफाई अभियान चलाये ताकि इस भूमि को साफ किया जा सके। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी सीमा विश्वकर्मा, तहसीलदार संजय कुमार, अधिशासी अभियन्ता विजय कुमार, मंगलदीप विद्या मंदिर स्कूल के रंजन जोशी, राजस्व उपनिरीक्षक महेन्द्र प्रसाद, राजस्व निरीक्षण कुन्दन नयाल, बी0एस0 मनकोटी, कमल कूपर, पूर्व ग्राम प्रधान हरीश नयाल सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Featured Post

चौबट्टाखाल के लोगों को मदद करने के लिए उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी ने शुरू की अनोखी पहल

सतपुली/देहरादून। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के चैबट्टाखाल संयोजक चंद्रशेखर नेगी ने लोगों को मदद करने के लिए अनोखी पहल की शुरुआत की। पूर्व ...