रकम दोगुनी के लालच में तीन ने गंवाए लाखों रुपए

देहरादून। हरिद्वार और देहरादून के तीन युवकों ने रकम दोगुनी होने के लालच में आकर लाखों रुपए गंवा दिए। पुलिस ने मामला दर्ज कर पड़ताल शुरू कर दी है। पहला मामला हरिद्वार जिले का है। जहां एक शख्स ने साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन में एक शिकायती प्रार्थना पत्र दिया है। पीड़ित के अनुसार, एक अज्ञात व्यक्ति का उन्हें फोन आया था। खुद को एलआईसी का मैनेजर बताते हुए उसने एलआईसी पॉलिसी को शेयर मार्केट में लगाने का ऑफर दिया। साथ ही एलआईसी की रकम को दोगुना करने का भी लालच दिया। फिर एलआईसी की सम्पूर्ण धनराशि उपलब्ध कराने के नाम पर तमाम शुल्क के रुप में विभिन्न बैंक खातों से करीब 36 लाख रुपये उड़ा लिए। इधर देहरादून निवासी व्यक्ति ने साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन को एक शिकायती प्रार्थना पत्र दिया है। जिसमें उस शख्स ने बताया कि टेलीग्राम में एक ग्रुप आया। जिसमें लोगों को पैसा दोगना करने की बात चल रही थी। जिस पर शिकायतकर्ता ने अपनी धनराशि को दोगुना करने के लालच में ग्रुप एडमिन से संपर्क साधा। फिर उस ग्रुप एडमिन से व्हाट्सएप के माध्यम से धनराशि दोगुना करने के सम्बन्ध में बात की। जिस पर ठग ने शिकायतकर्ता को झांसे में लेकर उसके धन को दोगुना करने के लिए टैक्स और अन्य शुल्क की बात कहकर एक लाख 30 हजार रुपये बैंक खाते में डालने को कहा। जिस पर शिकायतकर्ता ने यह धनराशि ठग के बताये खाते में डाल दी। दून निवासी एक शख्स ने साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन में प्रार्थना पत्र दिया कि उसे किसी अज्ञात व्यक्ति ने फोन पे कस्टमर केयर अधिकारी बनकर फोन किया. फिर भविष्य में फोन पे से ट्रांसजेक्शन करने के लिए कुछ और प्रोसेसिंग करने की बात कही। जिसके लिए शिकायतकर्ता से ठग ने बैंक की डिटेल मांगी। बैंक संबंधी जानकारी देने में बाद शिकायतकर्ता के खाते से 3 बार में कुल 29,999 रुपये कट गए. हालांकि, व्यक्ति की शिकायत करने के बाद पुलिस अधिकारियों ने ठग के खाते को फ्रिज कर दिया है। तीनों मामले की पड़ताल की जा रही है।

Featured Post

चौबट्टाखाल के लोगों को मदद करने के लिए उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी ने शुरू की अनोखी पहल

सतपुली/देहरादून। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के चैबट्टाखाल संयोजक चंद्रशेखर नेगी ने लोगों को मदद करने के लिए अनोखी पहल की शुरुआत की। पूर्व ...