Saturday, 20 February 2021

पुल निर्माण में हाईटेंशन लाइन बनी बाधक

रुड़की। पिरान कलियर स्थित नई गंगनहर पर बन रहे स्टील गार्डर पुल निर्माण के दौरान हाइटेंशन बिजली की लाइन बाधक बन रही है। जिसे लेकर कलियर विधायक हाजी फुरकान अहमद, ऊर्जा निगम के अधिकारियों व निर्माण एजेंसी के अधिकारियों ने स्थलीय निरीक्षण किया और बाधक बन रही लाइन को शिफ्ट कराने का निर्णय लिया। इस दौरान ऊर्जा निगम के अधिकारियों ने लाइन शिफ्टिंग का इस्टीमेट बनाकर जल्द ही कार्य शुरू करने का आश्वासन दिया। पिरान कलियर स्थित नई गंगनहर पर करीब 9 करोड़ की लागत से टू लेन स्टील गार्डर पुल को मंजूरी के बाद निर्माण एजेंसी अग्रवाल ब्रदर्स ने पुल निर्माण कार्य की शुरूआत कर दी है। जिस स्थल पर पुल निर्माण कार्य किया जा रहा है। वहां से 33 केवी और 11 केवी हाईटेंशन लाइन पास से होकर गुजर रही है। पुल निर्माण एजेंसी ने लाइन हटाने के लिए ऊर्जा विभाग के अधिकारियों से संपर्क कर लाइन को शिफ्ट करने की मांग की थी। परान कलियर विधायक हाजी फुरकान अहमद और विद्युत विभाग के एसडीओ अंबिका यादव, व अजय कुमार ने मौके पर पहुंचकर स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने लाइन को शिफ्टिंग करने के लिए एस्टीमेन्ट बनाकर जल्द लाइन शिफ्टिंग का कार्य करने का आश्वासन दिया है। अजय कुमार ने बताया कि पुल निर्माण में दो हाईटेंशन लाइन पास से गुजर रही हैं, जिनको शिफ्टिंग के लिए विद्युत विभाग से मांग की गई है। लाइन न हटने के कारण क्रेन नहीं चल पा रही है। बिजली लाइन की वजह से हादसा होने का भी खतरा बना हुआ है। विद्युत विभाग के एसडीओ अंबिका यादव ने बताया कि मौके का निरीक्षण कर एस्टीमेन्ट बनाकर जल्द ही लाइन शिफ्टिंग कार्य शुरू कर दिया जाएगा। विधायक हाजी फुरकान अहमद ने बताया कि नई गंगनहर पर स्टील गार्डर पुल निर्माण कार्य शुरू हो गया है। जिसमें दो हाईटेंशन लाइन आ रही हैं। आज मौके पर पहुंचकर ऊर्जा विभाग और एजेंसी के अधिकारियों से मिलकर लाइन को शिफ्टिंग कर निर्माण कार्य जल्द चालू करने को कहा गया है।

Featured Post

एसजेवीएन अध्यक्ष नंदलाल शर्मा ने सीएम धामी से की भेंट, उत्तराखंड में जल विद्युत परियोजनाओं के क्षेत्र में निवेश की इच्छा जताई

देहरादून, गढ़ संवेदना न्यूज। एसजेवीएन के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक नन्द लाल शर्मा ने उत्तराखंड में जल विद्युत परियोजनाओं के क्षेत्र में निवे...