Saturday, 24 April 2021

कर्फ्यू में बेवजह घूमने वालों के काटे चालान

देहरादून शनिवार को कर्फ्यू का राजधानी में मिलाजुला असर दिखाई दिया। एक तरफ जहां बाजार पूरी तरह से बंद रहा वहीं सड़कों पर वाहनों की आवाजाही में अन्य दिनों की अपेक्षा कम ही अंतर दिखाई दिया। वहीं आवश्यक सेवाओं के साथ ही दून में शराब की दुकानें भी पूरे दिन खुली रहीं। उत्तराखण्ड में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए प्रदेश सरकार ने नाइट कर्फ्यू लगाया हुआ है। वहीं दो बजे से बाजार बंदी का समय तय किया गया है तो दून में वीकेंड कोविड कर्फ्यू भी लगाया जा रहा है। आज शनिवार को कोविड कर्फ्यू के दौरान दून के बाजार पूरी तरह से बंद रहे लेकिन सड़कों पर वाहनों की आवाजाही पूरी तरह से दिखाई दी। कोविड कर्फ्यू के चलते आज शहरभर में आवश्यक सेवाओं के अलावा कोई दुकान नहीं खुली। वहीं बेवजह सड़कों पर घूमने वालों के खिलाफ पुलिस ने चालानी कार्यवाही की। हालांकि फिर भी लोगों को इससे कोई फर्क नहीं पड़ा और पूरा दिन सड़क पर लोगों की आवाजाही रही। इनमें से कई लोग तो अस्पताल जाने, दवाई लेने आदि के लिए निकले थे जिन्हें पुलिस ने जाने दिया लेकिन कई ऐसे भी थे तमाम तरह के बहाने बनाते हुए नजर आए। वहीं आवश्यक सेवाओं के साथ ही शराब की दुकानें भी पूरा दिन खुली रही। जबकि प्रशासन की ओर से जारी आवश्यक सेवाओं की सूची में शराब की दुकानों को खोले रखने का कोई जिक्र नहीं है। आशारोड़ी चेकपोस्ट पर अन्य राज्यों से आने वाले लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया। इस दौरान कोविड जांच के लिए आने वाले लोगों की संख्या कम ही दिखाई दी।

Featured Post

जवानों की शहादत का कोई मोल नहीं है केंद्र सरकार की नजरों मेंः मोर्चा

-देश की एजेंसियों को विरोधियों को कमजोर करने व चुनावी षड्यंत्र के काम से हटाए सरकार -उत्तराखंड के जवानों की दिनों-दिन हो रही शहादत पर...