Friday, 9 April 2021

उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी ने लोहाघाट के खराही में हुई फसलों की बर्बादी पर लोगों से की मुलाकात

देहरादून/लोहाघाट। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के लोहाघाट, खराही -धूनाघाट संयोजक नवीन नाथ गोस्वामी ने अपने विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न लोगों से बात की एवं उन्होंने यह पाया कि पूरा यह खराही क्षेत्र आधुनिक युग में बहुत ही पीछे हो चुका है। हर तरफ आपको बर्बादी का मंजर दिखाई देगा। गांव के लोग बहुत ही परेशान हैं, ना उन्हें पेयजल की उचित व्यवस्था है और ना ही उनके खेतों में सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी हैं। खेतों में जो भी फसल उगते हैं जंगली जानवरों द्वारा नष्ट कर दिए जाते हैं एवं पूर्ण फसल को बर्बाद होते हुए देख क्षेत्र के सभी किसान बहुत ही कष्ट में हैं। इस पूरे क्षेत्र में रोजगार का कोई अतिरिक्त साधन भी नहीं है। क्षेत्र में बारिश ना होने से भी फसल बहुत ही कम हो रही है। लोग अपने खेतों में सिंचाई का अन्य साधन तलाशते फिरते हैं। बड़ी कोशिश के बाद अगर कोई किसान थोड़ा बहुत फसल बचाता भी है तो उसे जंगली जानवर जैसे सूअर, काखड़ और बंदरों द्वारा नष्ट कर दिए जा रहे हैं। इस साल गेहूं की फसल के साथ भी यही हुआ पूरे क्षेत्र में आप गई गेहूं की खेत की बर्बादी देख सकते हैं। बारिश हो ना होने की वजह से दलहन की कोई पैदावार इस साल इस क्षेत्र में नहीं होगीं। सरकार की बेरुखी यहीं से दिखाई दे रही है कि किसानों के सिंचाई के लिए पानी की बिल्कुल भी व्यवस्था नहीं है। सरकार ने इस क्षेत्र में कभी भी जंगली जानवरों से फसल बचाने के लिए कोई भी अतिरिक्त कोशिश नहीं की है। यहां तक कि लोगों के लिए उचित पेयजल की व्यवस्था भी नहीं हो पा रही है। रोजगार के कोई साधन तो सरकार ने उपलब्ध नहीं कराए उल्टे पूरे क्षेत्र में दारू के कई ठेके खोल दिए हैं जिससे महिलाओं को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। आसपास के लोग जो कुछ बचा रखे हैं वह दारू और अन्य नशाखोरी में लुटाए रहे हैं। क्षेत्र में अनेकों ऐसे परिवार हैं जहां शराब को लेकर घरेलू हिंसा का सामना करना पड़ रहा है। छोटे-छोटे बच्चों के संस्कार पर इस नशाखोरी, शराब के ठेके एवं अन्य समस्याओं के कारण बहुत बुरा असर हो रहा है। नवीन नाथ गोस्वामी ने लोगों से बात करते हुए कहा कि उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी आपके राज्य की क्षेत्रीय पार्टी है और यह आपके राज्य के विकास के लिए हर तरह से प्रतिबंध है एवं राज्य के विकास के लिए इन्हें इनके पास पर्याप्त योजना और रोडमैप तैयार है। हम आप सभी से निवेदन करते हैं कि आप उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी से जुड़े एवं अपने भविष्य को अपने हाथों से लिखे एवं अपना भविष्य खुद ही तय करें। यह दिल्ली से चलने वाली रिमोट कंट्रोल सरकार की बस की बात नहीं है कि यह उत्तराखंड के समग्र विकास पर ध्यान दें एवं सभी लोगों की समस्याओं को दूर करें। अतः आप सबसे निवेदन है कि उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी से जुड़े एवं 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत से उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी की सरकार बनाएं।

Featured Post

सीएम ने कारगिल शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गांधी पार्क, देहरादून में शौर्य दिवस के अवसर पर शहीद स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित कर कारगिल शहीदों...