Friday, 25 June 2021

देश के लिए काला अध्याय था आपातकाल

ऋषिकेश। बैराज रोड स्थित कैंप कार्यालय पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने विभिन्न जनप्रतिनिधि एवं कार्यकर्ताओं के साथ संगोष्ठी में कहा है कि आज के ही दिन तत्कालीन प्रधानमंत्री स्व0 इंदिरा गांधी के कहने पर देश में आपातकाल की घोषणा की गई थी। श्री अग्रवाल ने विभिन्न जनप्रतिनिधियों एवं कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा है कि यह देश के लिए काला अध्याय था। ऐसे में राष्ट्रवादी विचारधारा वाले लोगों को जेल में ठूंस दिया गया था। लोकतंत्र की हत्या कर दी गई थी। समाचार पत्रों का प्रकाशन सरकार के दिशानिर्देशों में होने लगा जो भी व्यक्ति अथवा संस्था तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के विरोध में कहते थे उन्हें जेल में बंद कर दिया जाता था। श्री अग्रवाल ने कहा है कि संपूर्ण देश में आपातकाल के खिलाफ आंदोलन खड़ा हुआ और दो लाख से अधिक लोगों को जेल में डाला गया और यातनाएं दी गई। श्री अग्रवाल ने अपने बाल्यकाल के संस्करणों को याद करते हुए कहा है कि उनका परिवार प्रारंभ से ही संघ विचारधारा से जुड़ा रहा और उनके परिवार को भी आपातकाल के समय अनेक यातनाएं दी गई। श्री अग्रवाल ने कहा है कि वर्तमान समय में देश लोकतंत्र के मर्यादाओं के आधार पर चल रहा है। हर व्यक्ति को अपनी बात कहने का अधिकार है जिसे अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता कहा गया है। उन्होंने कहा है कि वह ऐसा कालखंड था जब इंदिरा गांधी के राजनीतिक विरोधियों को हर प्रकार से प्रताड़ित किया जाता था। इस अवसर पर वरिष्ठ पार्षद शिव कुमार गौतम, पार्षद वीरेंद्र रमोला, क्षेत्र पंचायत सदस्य अमर खत्री, मनोज ध्यानी, सुमित पवार अरुण बडोनी, कविता शाह, आदि सहित अनेक लोग उपस्थित थे कार्यक्रम का संचालन राजेश थपलियाल ने किया।

Featured Post

सीएम धामी ने पौध उपहार व जन्मदिन पर पौधे लगाने की सीख दीः वृक्षमित्र डॉ सोनी

देहरादून। पौधों को भावनाओं से जोड़कर कार्य कर रहे वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को बहुत-बहुत बधाई दी। कह...