Tuesday, 15 June 2021

स्पिक मैके करेगा ऑनलाइन सांस्कृतिक उत्सव ‘अनुभव’ की मेजबानी

देहरादून। स्पिक मैके, द सोसाइटी फॉर द प्रमोशन ऑफ इंडियन क्लासिकल म्यूजिक एंड कल्चर अमंग यूथ ने आज आयोजित एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में 21 जून से 27 जून तक अनुभव श्रृंखला के दूसरे संस्करण की घोषणा करी। कार्यक्रम का सीधा प्रसारण संगठन के यूट्यूब चैनल पर किया जाएगा। इस अवसर पर बोलते हुए, मीडिया निदेशक, स्पिक मैके सुमन डूंगा ने कहा, “सांस्कृतिक उत्सव श्अनुभवश् को दुनिया भर के स्कूल और कॉलेज के छात्रों के लिए तैयार किया गया है ताकि वे इस चलती महामारी के कारण अपने घरों से रचनात्मक कला और शिल्प में संलग्न हो सकें। यह इंटरैक्टिव सीरीज छात्रों के तनाव और बोझ को कम करने और उन्हें एक रचनात्मक आउटलेट देने में मदद करने के लिए तैयार की गई है। आगे बताते हुए, सुमन ने कहा, “कोविड -19 के साथ, शिक्षा क्षेत्र में कुछ बाधाएं देखी गई हैं, जिससे युवाओं की मानसिक स्थिति प्रभावित हुई है। और वहीं कला, योग, ध्यान आदि के मूल्य-आधारित, रचनात्मक और गहराई से छूने वाले तत्वों की आवश्यकता को और अधिक दृढ़ता से महसूस किया गया है। स्पिक मैके अनुभव इस दिशा में ऐसे कठिन समय में आशा और सकारात्मकता फैलाने का एक और प्रयास है और युवाओं को उनके घरों से आश्रम जैसा अनुभव प्रदान करता है। अनुभव 2021 श्रृंखला का हिस्सा बनने वाले कुछ प्रसिद्ध कलाकारों में श्याम बेनेगल, शबाना आजमी, जावेद अख्तर, उस्ताद अमजद अली खान, तीजन बाई, पंडित शिवकुमार शर्मा, डॉ एन राजम, पंडित साजन मिश्रा, उस्ताद शाहिद परवेज खान, अरुणा साईराम, पंडित उल्हास कशलकर, पंडित वेंकटेश कुमार, उस्ताद वसीफुद्दीन डागर, गीता चंद्रन और घनाकांता बोरा शामिल हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान, चेयरपर्सन, स्पिक मैके उत्तराखंड विद्या वासन ने कहा, “प्रतिभागियों को शास्त्रीय संगीत, नृत्य संगीत, व्याख्यान प्रदर्शन, गहनता, कार्यशालाओं और वार्ता जैसी विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से कुछ महान गुरुओं से जुड़ने का अवसर मिलेगा। ”प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्पिक मैके के संस्थापक डॉ किरण सेठ, चेयरपर्सन कुंडा माहूरकर, उत्तराखंड की चेयरपर्सन विद्या वासन, मीडिया डायरेक्टर सुमन डूंगा और अनुभव 2.0 के संयोजक जय शर्मा सहित कई अन्य लोग शामिल हुए।

Featured Post

उत्तराखंड में बारिश से हाल बेहाल, राज्य की 154 सड़कें पड़ी हैं बंद

देहरादून। प्रदेश में मॉनसून लगातार सक्रिय है। भारी बारिश के कारण शुक्रवार 30 जुलाई तक प्रदेश में 154 छोटे-बड़े मार्ग बंद हैं, जिन्हें खोलने...